स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फसल उजाड़ रहा बीसलपुर का पानी !

Ashish sharma

Publish: Aug 22, 2019 20:42 PM | Updated: Aug 22, 2019 20:42 PM

Jaipur

जयपुर ( Jaipur ) , अजमेर, टोंक ( Tonk ) शहर की लाइफलाइन माने जाने वाले बीसलपुर बांध ( Bisalpur Dam ) के ओवरफ्लो होने से जहां एक ओर इन जिलों के लोगों में इस बात की खुशी है कि उन्हें अब जलसंकट ( Water Crisis ) का सामना नहीं करना पड़ेगा। वहीं, दूसरी ओर बात करें तो टोंक जिले में किसान ( Farmer ) बांध का ओवरफ्लो पानी छोड़ने से मुश्किल में पड़ गए हैं। जिला प्रशासन ( District Administration ) के निर्देश पर बीसलपुर बांध का पानी छोड़ा जा रहा है जो कि बनास नदी ( Banas River ) में मिल रहा है। लेकिन बांध से पानी छोड़ने के बाद टोंक जिले के कई इलाकों में पानी फैल गया है। पानी फैलने से खेत ( Farm ) पानी में डूब गए हैं और पानी भरने से मिट्टी गल गई है।

 

 

 

जयपुर

जयपुर ( Jaipur ) , अजमेर, टोंक ( Tonk ) शहर की लाइफलाइन माने जाने वाले बीसलपुर बांध ( Bisalpur Dam ) के ओवरफ्लो होने से जहां एक ओर इन जिलों के लोगों में इस बात की खुशी है कि उन्हें अब जलसंकट ( Water Crisis ) का सामना नहीं करना पड़ेगा। वहीं, दूसरी ओर बात करें तो टोंक जिले में किसान ( Farmer ) बांध का ओवरफ्लो पानी छोड़ने से मुश्किल में पड़ गए हैं। जिला प्रशासन ( District Administration ) के निर्देश पर बीसलपुर बांध का पानी छोड़ा जा रहा है जो कि बनास नदी ( Banas River ) में मिल रहा है। लेकिन बांध से पानी छोड़ने के बाद टोंक जिले के कई इलाकों में पानी फैल गया है। पानी फैलने से खेत ( Farm ) पानी में डूब गए हैं और पानी भरने से मिट्टी गल गई है।
इससे किसानों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। क्योंकि खेत में पानी भरने से कई बीघा के क्षेत्र में फसल खराब हो गई हैं। फसल पूरी तरह से गलने से किसानों को भारी खामियाजा उठाना पड़ रहा है और किसानों में इससे प्रशासन के खिलाफ नाराजगी भी है। इलाके में पानी भरने से नाराज संडेला गांव में एकत्रित हुए ग्रामीणों ने धरना दिया। प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए फसल खराबे और नाराजगी जताई। ग्रामीण प्रशासन से मुआवजे की मांग कर रहे हैं। मुआवजा नहीं मिलने पर आंदोलन की चेतावनी भी इन्होंने दी है।

3 साल बाद हुआ ओवरफ्लो
आपको बता दें कि एक ओर बीसलपुर बांध जिसे जयपुर, अजमेर, टोंक शहर की लाइफलाइन माना जाता है, यहां के लोग अच्छी बारिश से बांध में पानी की अच्छी आवक होने का इंतजार पिछले तीन साल से कर रहे थे। 2016 के बाद से कभी ओवरफ्लो नहीं हुआ था लेकिन इस बार मानसून की मेहरबानी से बांध ओवरफ्लो हुआ। बांध से फिलहाल दो गेट खोलकर पानी की निकासी की जा रही है। इस पानी को बनास नदी के लिए छोड़ा जा रहा है लेकिन बांध के ओवरफ्लो होने पर छोड़ा जा रहा यही पानी टोंक के किसानों के लिए परेशानी का सबब बन गया है।