स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान रोडवेज के लिए संजीवनी बनेगा भागीरथी अभियान

Surendra Kumar Samaria

Publish: Apr 24, 2019 20:52 PM | Updated: Apr 24, 2019 20:52 PM

Jaipur

- राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम में भागीरथी अभियान शुरू

- प्रत्येक बस में दो यात्री बढ़ाने का प्रयासर करेंगे रोडवेजकर्मी

- यात्री भार में चार प्रतिशत तक की वृद्धि करने के लिए अभियान

- रोडवेज के बढ़ते घाटे से उबारने में संजीवनी की तरह का अभियान

- रोडवेज में अभी लगभग 45 सौ करोड़ रुपए घाटे में चल रही

रोडवेज के लिए संजीवनी बनेगा भागीरथी अभियान राजस्थान रोडवेज को घाटे से उबारने के लिए प्रशासन लगातार प्रयासरत हैं। इसमें अब रोडवेजकर्मी भागीरथी बनकर संजीवनी देंगे। इसके लिए राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम ने भागीरथी अभियान चलाने का निर्णय लिया हैं।

इसमें चालक व परिचालक सहित सभी रोडवेजकर्मी मिलकर प्रत्येक बस में अतिरिक्त दो यात्रियों को यात्रा कराकर यात्री भार में बढ़ोतरी करेंगे। निगम में राजस्व बढ़ाने के लिए प्रबंधन निदेशक शुचि शर्मा ने रोडवेजकर्मियों से अपील की है।

- बसों को रखे साफ-सुथरा, पहने वर्दी प्रबंध निदेशक शुचि शर्मा ने अपील कर कहा कि दो अतिरिक्त यात्रियों को सफर कराने के लिए बसों को साफ-सुथरा रखें। सीटों का रखरखाव समय पर हो। चालक-परिचालक कार्य के समय वर्दी में रहकर रोडवेज की प्रतिष्ठा बढ़ाए।

- बाईपास की प्रथा करें बंद प्रबंधन निदेशक ने भागीरथी अभियान को सफल बनाने के लिए कहा है कि बसों को बाईपास व मार्गों की पुलियाओं के उपर से ले जाने की प्रथा को तुरंत बंद करें। बस स्टैंडों से यात्रियों को बैठाए, उतारे। अशक्त, असहाय और महिला यात्रियों के सामान, बच्चों को बस में बैठाने और उतारने में मदद करें। यह अभियान रोडवेज के लिए संजीवनी बनेगा।