स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नया कॉलेज खोलने से पहले गुगल मैप को पर दर्ज करवानी होगी लोकेशन,तभी मिलेगी एनओसी

HIMANSHU SHARMA

Publish: Sep 16, 2019 09:49 AM | Updated: Sep 16, 2019 09:49 AM

Jaipur

लोकेशन दर्ज करवा उसका प्रिंट लगाना होगा आवेदन के साथ

जयपुर
कॉलेज आयुक्तालय ने अब फर्जीवाड़ा रोकने के लिए गुगल मैप का सहारा लिया हैं। विद्यार्थियों की सुविधा और निरीक्षण के दौरान भवनों को लेकर की जाने वाली गड़बड़ को लेकर इस बार पहले ही शिक्षा विभाग सतर्क हो गया हैं। यही कारण है कि प्रदेश में नए प्राइवेट कॉलेज खोलने के लिए कॉलेज आयुक्तालय ने आवेदन मांगे हैं। लेकिन इस बार किसी भी नए कॉलेज को खोलने की स्वीकृति तभी मिल सकेगी जब उसकी लोकेशन गुगल मैप पर दर्ज होगी। आयुक्तालय को कई बार इस तरह की शिकायत मिली थी कि कॉलेज के निरीक्षण के लिए विभाग की ओर से भेजी गई टीम को निरीक्षण के दौरान दूसरा भवन दिखा दिया जाता हैं। जिसमें सभी तरह के मानदंड पूरे होते हैं। कई बार एक ही भवन में कई तरह की शिक्षण संस्थाएं खोल कर उनका ही बार बार निरीक्षण करवा कर स्वीकृति ले ली जाती हैं। अब इससे बचने के लिए विभाग ने गुगल मैप का सहारा लिया हैं। कॉलेज आयुक्तालय ने पहली बार नए कॉलेज के आवेदन पत्रों के साथ गुगल मैप की लोकेशन को आवेदन पत्र में शामिल किया हैं। उच्च शिक्षा विभाग के अनुसार प्रस्तावित कॉलेज के लिए भूमि का चयन कर उस भूमि के दस्तावेज तो आवेदन पत्र के साथ पेश करने ही होंगे। साथ ही प्रत्येक महाविद्यालय को गुगल मैप पर जाकर संस्था की भूमि को रजिस्टर करना होगा। इसके बाद रजिस्ट्रेशन होने पर उस रजिस्ट्रेशन का प्रिंट निकालकर उस दस्तावेज को भी आवेदन पत्र के साथ लगाना होगा। जिसके बाद ही आवेदन पत्र को पूर्ण माना जाएगा। कॉलेज आयुक्तालय ने परीक्षा केंद्रों से लेकर लोकेशन को लेकर आने वाली अन्य तरह की परेशानियों को लेकर इस तरह की नई व्यवस्था की हैं। वहीं कॉलेज के निरीक्षण के लिए पहुंचने में भी किसी तरह की कोई समस्या नहीं हो इसलिए इस बार गुगल मैप का सहारा लिया गया हैं। विभाग का मानना है कि ऐसा करने से फर्जीवाड़ा रूकेगा और कॉलेज की लोकेशन को लेकर किसी तरह की कोई समस्या नहीं होगी और एक ही भवन में दो तरह के संस्थान होंगे तो भी गुगल मैप के आधार पर पत्ता चल सकेगा।
आज से शुरू हुई आवेदन प्रक्रिया
शैक्षणिक सत्र 2020.21 के लिए नए प्राइवेट कॉलेज खोलने और पहले से चल रहे महाविद्यालयों की एनओसी के लिए आज से आवेदन किए जा सकेंगे। कॉलेज आयुक्तालय की वेबसाइट पर जाकर आॅनलाइन आवेदन बिना किसी विलंब शुल्क के 31 अक्टूबर तक किए जा सकेंगे। वहीं इसके बाद 25 हजार रुपए विलंब शुल्क के साथ आवेदन 1 नवम्बर से तीस नवम्बर तक किए जा सकेंगे।