स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मानसून की बारिश के बाद अब मावठ भी सामान्य से ज्यादा

Bhavnesh Gupta

Publish: Jan 18, 2020 12:13 PM | Updated: Jan 18, 2020 12:13 PM

Jaipur

जनवरी में अब तक 86 फीसदी ज्यादा पानी बरसा


जयपुर। प्रदेश में बीते साल मानसून में हुई जमकर बारिश ने कई सालों के पुराने रिकॉर्ड तोड़े तो अब सर्दी के सीजन में मावठ भी रिकॉर्ड तोड़ रही है। जनवरी के पहले पखवाड़े की जारी रिपोर्ट के अनुसार अब तक पूरे प्रदेशभर में सामान्य से 86 फीसदी ज्यादा मावठ हो चुकी है। सामान्य तौर पर पूरे राजस्थान में औसतन 2 मिमी बारिश होती है, जबकि इस बार 3.7 मिमी बारिश हुई। मौसम विभाग से जारी रिपोर्ट पर नजर डाले तो मावठ का ये आंकड़ा केवल पश्चिमी राजस्थान में ही ज्यादा है। पश्चिमी राजस्थान क्षेत्र में सामान्य से 254 फीसदी ज्यादा मावठ हुई है, जबकि पूर्वी राजस्थान में तो ये सामान्य से 49 फीसदी से भी कम है।

गलनभर हवाओं का दौर शुरू
प्रदेश के कई शहरों में दिनभर बादल छाने और गलनभरी तेज हवाएं चलने से लोगों में ठिठुरन और बढ़ गई। अधिकांश शहरों में रात के तापमान में 3 से लेकर 6 डिग्री तक की गिरावट दर्ज हुई। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार से मौसम पूरी तरह साफ होना शुरू हो जाएगा, लेकिन कई शहर सुबह घने कोहरे के चपेट में रह सकते है। वहीं, दिन में सर्दभरी हवाओं का दौर भी चल सकता है, जिससे 'कोल्ड डेÓ की स्थिति बन सकती है। मौसम विभाग के मुतबिक पश्चिमी राजस्थान के श्रीगंगानगर, चूरू, हनुमानगढ़, बीकानेर और पूर्वी राजस्थान के सीकर, झुंझुनूं, जयपुर, अलवर, दौसा, भरतपुर, करौली, सवाईमाधोपुर, कोटा, बारां, झालावाड़, टोंक तथा बूंदी में शीतलहर चलने के साथ घना कोहरा छा सकता है।

[MORE_ADVERTISE1]