स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक ऐसा स्कूल जहां शिक्षक और चपरासी रहते हैं नशे में, वहां के बच्चे पढ़ाई के अलावा करते हैं हर काम

Badal Dewangan

Publish: Jul 19, 2019 14:33 PM | Updated: Jul 19, 2019 14:33 PM

Jagdalpur

केशकाल विकासखंड (Keshkal)के प्राथमिक शाला गद्दाड़ में बच्चे (Children) ही पानी लाने से लेकर भोजन बनाने तक का काम (Food preparation) कर रहे हैं। वहीं अध्ययन कर रहे छात्रों का कहना है कि शिक्षक (Teacher) और चपरासी (Peon) प्रतिदिन शराब के नशे में रहते हैं।

केशकाल. शिक्षा गुणवत्ता को लेकर प्रदेश सरकार सभी शासकीय स्कूलों में प्राथमिकता से बच्चों को भर्ती करा रही है तो वहीं केशकाल विकासखंड के संवेदनशील इलाके के प्राथमिक शाला गद्दाड़ में स्कूली बच्चे ही पानी लाने से लेकर भोजन बनाने तक का काम कर रहे हैं। वहीं अध्ययन कर रहे छात्रों का यह भी कहना है कि शिक्षक और चपरासी प्रतिदिन शराब के नशे में रहते हैं जिसके चलते स्कूली बच्चे पढ़ाई नही कर पा रहें हैं।