स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अपने परिजन की अस्थियां लेने शमशान घाट गया युवक बह गया नदी में, दो दिन बाद इस हालत में एनीकट में फंसा मिला शव

Badal Dewangan

Publish: Sep 16, 2019 14:15 PM | Updated: Sep 16, 2019 14:15 PM

Jagdalpur

परिजन की अस्थि लेने गए युवक का पैर फिसलने से युवक नदी की तेज बहाव में बह गया।

कोंडागांव. अपने परिजन के मृत्यु के बाद युवक अस्थि लेने शमशान घाट गया था। जहां नदी में किनारे जाने के बाद युवक का पैर फिसलने से युवक नदी की तेज बहाव में बह गया। आज दो दिन बाद युवक का शव घटनास्थल से करीब दो किलोमीटर दूर एक एनीकट में फंसा हुआ मिला।

साथियों ने उसे बचाने की कोशिश की लेकिन असफल रहे
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, दो दिन पहले आडक़ा छेपड़ा निवासी सूरज मारकंडे अपने किसी परिजन की अन्येष्टि कार्यक्रम के बाद चिता से अस्थि चुनने गया हुआ था। उसी समय अस्थि चुनने के बाद नदी के किनारे गया वहीं अचानक युवक का पैर फिसल गया और युवक सीधे नदी में चला गया। वहां मौजूद बाकी साथियों ने उसे बचाने की कोशिश की लेकिन असफल रहे।

पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया
वहीं इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई, पुलिस के गोताखोरों की टीम ने दो दिन के मशक्कत के बाद युवक के शव को घटनास्थल से करीब दो किलोमीटर दूर जोदंरापदर गांव पर बने एनिकट में फंसा हुआ मिला। जिसे गोताखोरों ने निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।