स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आफत की बारिश के बाद अब किसानों को सता रही ये चिंता, जानिए क्या है पूरा मामला

Badal Dewangan

Publish: Sep 16, 2019 11:43 AM | Updated: Sep 16, 2019 11:43 AM

Jagdalpur

जिले में हुई भारी बारिश ने किसानों को सूखे की मार से उबार दिया।

जगदलपुर. जिले में लगातार हो रही बारिश से चिंतित किसानों को जहां मौसम ने राहत दिलाई तो वहीं अब बदली छाई रही है। धूप और बदली का रविवार को दिन भर आना-जाना लगा रहा। हालांकि पिछले एक सप्ताह की बारिश से कहीं-कहीं धान की फसल पर कीट प्रकोप दिखने लगा है, पर अब किसान इससे फसल को बचाने के जतन करने में जुट गए हैं।

Read More: राशनकार्ड नवीनीकरण में अपात्र हितग्राहियों के लिए अच्छी खबर, इस तारीख तक कर सकते हैं अपनी पात्रता साबित

खेतो में अब दिखाई देने लगे तनाछेदक
पहले किसानों को फसल के लिए पानी की चिंता सता रही थी। अगस्त माह की शुरूआत में बारिश हुई और नहर से भरपूर पानी भी मिल गया। खाद के लिए भी किसानों मशक्कत करनी पड़ी। पर किसी तरह फसल की स्थिति में सुधरने लगी थी। इसके बाद सितंबर माह लगते ही लगातार एक सप्ताह की बदली और बारिश से फसल पर कीट प्रकोप का खतरा मंडराने लगा है। नदी-नालों के आसपास के खेत तो पानी से भरे गए हैं। खेतों में इन दिनों तनाछेदक दिखाई दे रहा है, इससे फसल को नुकसान हो रहा है।

Read More: 10वीं के बाद ये 5 डिप्लोमा कोर्स कर आप भी ऐसे पा सकते हैं नौकरी के बेहतरीन विकल्प

खेतों मे चल रहा छिडक़ाव
दूसरी ओर दलहन ओर तिलहन तो इस बारिश में चौपट होने के कगार पर हैं। जिले में १० लाख हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में फसल लगाई गई है। किसानों का कहना इस समय खेतों में तनाछेदक, झुलसा, बंकी, भूरा माहो जैसे कीट ने फसल को अपने चपेट में ले लिया है। इससे बचने के लिए वे खेतों में दवा का छिडक़ाव कर रहे हैं।