स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

निर्दयी पिता ने डेढ़ साल की रो रही बेटी को पत्थर पर पटककर मार डाला

Santosh Kumar Singh

Publish: Jul 20, 2019 12:11 PM | Updated: Jul 20, 2019 12:11 PM

Jabalpur

विजय नगर थाना क्षेत्र की घटना-एल्गिन में भर्ती है पत्नी, गुरुवार को चौथी बेटी के पैदा होने पर खो बैठा आपा, आरोपी गिरफ्तार

जबलपुर. शराब के नशे में धुत एक पिता ने अपनी डेढ़ साल की मासूम बच्ची को पत्थर पर पटककर मार डाला। मासूम का कसूर इतना था कि वह एल्गिन अस्पताल में भर्ती मां के पास जाने की जिद कर रही थी। तीन बेटियों के पिता को जैसे ही पता चला कि पत्नी ने चौथी बेटी को जन्म दिया है, तो उसने आपा खो दिया। विजय नगर पुलिस ने आरोपी को एल्गिन अस्पताल से गिरफ्तार कर लिया।
12 वर्ष से शहर में रहकर कर रहा मजदूरी
पुलिस ने बताया कि मूलत: शहडोल निवासी अज्जू वंशकार की शादी चंडालभाटा निवासी किरन से हुई है। 12 साल से वह जबलपुर में रहकर मजदूरी करता है। पिछले कुछ महीनों से वह आइएसबीटी के पास एक झोपड़ी में पत्नी किरन, बेटियों प्रीति (6), प्राची (3) और डेढ़ वर्षीय रूपाली के साथ रह रहा था। उसने दो दिन पहले किरन को एल्गिन अस्पताल में भर्ती कराया था।

बेटी की हत्या के आरोपी पिता को गिरफ्तार कर ले जाती पुलिस
IMAGE CREDIT: patrika

चौथी बेटी के जन्म की खबर सुनते ही आपा खो बैठा
गुरुवार रात किरन ने चौथी बेटी को जन्म दिया। यह खबर सुनकर अज्जू शराब पीकर घर पहुंचा, तो डेढ़ साल की बेटी रूपाली मां के पास जाने की जिद करते हुए रोने लगी। बड़ी बेटी ने चुप कराने की कोशिश की, तो अज्जू ने उसे डांटकर सुला दिया। रूपाली को चुप कराने की बात कहकर झोपड़ी से बाहर ले गया। वहां उसने रूपाली को पत्थर पर पटक कर मार डाला और शव नाले में फेंक दिया।
बेटी की हत्या कर पहुंचा एल्गिन
अज्जू बेटी की हत्या कर नशे की हालत में एल्गिन अस्पताल पहुंचा, लेकिन गार्डों ने उसे भगा दिया। शुक्रवार सुबह प्रीति सोकर उठी, तो रूपाली नहीं थी। वह उसे तलाश रही थी, तभी उसकी नजर नाले पर पड़ी। नाले में बहन की लाश देखकर चीख पड़ी। उसकी चीख सुनकर आसपास के लोग जमा हो गए। इस बीच सूचना पर विजय नगर पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पीएम के लिए भिजवाया।
एल्गिन में पहुंचे एसपी ने दबोचा
एसपी अमित सिंह को सूचना मिली कि बेटी की हत्या करने वाला अज्जू पत्नी से मिलने एल्गिन अस्पताल गया है, तो वे भी वहां पहुंच गए। वहां अज्जू शराब के नशे में धुत मिला। एसपी ने विजय नगर पुलिस को बुलाकर अज्जू को उसके सुपुर्द कर दिया। विजय नगर पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज कर अज्जू को गिरफ्तार कर लिया है। बच्चियों को रिश्तेदार के घर पर रखवाया गया है।