स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घरों में पानी भराया तो कहां था बाढ़ राहत दल-बाढ़ आई तो किससे मांगेंगे मदद

Krishna Singh

Publish: Jul 28, 2019 20:37 PM | Updated: Jul 28, 2019 20:37 PM

Itarsi

बाढ़ आई तो किससे मांगेंगे मदद
कलेक्टर को भेजी बाढ़ राहत दल की जानकारी आम जनता अनजान
घरों में भराया पानी, नहीं दिखाई दिए न राहत दल प्रभारी, न सदस्य

इटारसी. दो दिन से अच्छी बारिश हो रही है। इससे शहर की निचली बस्तियों में पानी सड़क पर जमा हो गया है और बस्तियों में घरों के अंदर पानी भर गया है। ऐसे में आम जनता किससे मदद मांगे क्योंकि लोगों को पता ही नहीं है कि बाढ़ राहत केंद्र कहां बनाएं गए हैं उनके क्षेत्र के बाढ़ राहत प्रभारी कौन है।

शनिवार की रात हुई बारिश के कारण सूरजगंज, एफसीआई के पास, महर्षि नगर, हरिजन मोहल्ला, पुरानी इटारसी काबड़ मोहल्ला, सोनासांवरी नाका क्षेत्र में पानी जमा हो गया था। पानी लोगों के घरों में भी भर गया था।

- नहीं पहुंचा बाढ़ राहत दल
हरिजन मोहल्ला, बंगलिया, पुरानी इटारसी काबड़ मोहल्ला, तिरुपति कॉलोनी में जब पानी भराया तो इसकी जानकारी मिलते ही विधायक प्रतिनिधि कल्पेश अग्रवाल, सभापति राकेश जाधव नपा अमले के साथ पहुंचे पानी निकलवाया। इसके बाद लोगों को राहत मिल सकी। इस दौरान कहीं भी बाढ़ राहत दल नहीं पहुंचा। सीएमओ, सब इंजीनियर के साथ ही अन्य अधिकारी सुबह दिखाई नहीं दिए।

- जून में बन जाते है बाढ़ राहत दल
हर वर्ष नगर पालिका द्वारा जून में बाढ़ राहत दल बन जाते हैं। दलों के प्रभारी नियुक्त करने के साथ ही राहत केंद्र, सहायता केंद्र भी निर्धारित कर दिए जाते हैं। दल बनने के बाद इसकी जानकारी आम जनता तक पहुंचाई जाती है लेकिन इस बार आम जनता को पता ही नहीं है कि केंद्र कहां बने हैं, कौन उनके क्षेत्र का प्रभारी है। इसी का परिणाम है कि रविवार को सुबह जब लोगों के घरों में पानी जमा हुआ था वह सीधे नगर पालिका अध्यक्ष के घर पहुंच गए और इसकी सूचना दी।

बाढ़ राहत दल कागजों पर बन गया है। रविवार को सुबह एक भी अधिकारी फील्ड पर नहीं था। ऐसी स्थिति में आम जनता किससे मदद मांगे। बाढ़ राहत दल की जानकारी लोगों को नहीं है।
राकेश जाधव, सभापति नपा

बाढ़ राहत केंद्र बने हैं। कलेक्टर कार्यालय इसकी पूरी जानकारी भेजी गई है। मैं स्वयं बाढ़ राहत केंद्र में ही उपलब्ध हूं और इसके अलावा पूरा स्टाफ सुबह से लगा हुआ है।
हरिओम वर्मा, सीएमओ इटारसी

यह रहे हालात
- नया यार्ड के बकरी मोहल्ला खेड़ापति मंदिर के पास लोगों के घरों में पानी भर गया था।
- बारह बंगला ठंडी पुलिया में पानी भरा हुआ था यहां एक ट्रेक्टर चालक ने रेत भरी ट्रॉली पुलिया अंदर से ले जाने की कोशिश की जो फंस गई थी। चालक इसके बाद यहां से फरार हो गया। बाद में इसे जेसीबी से निकाला गया।
- बंगलिया क्षेत्र पानी से घिर गया था। यहां बंगलिया से ओवरब्रिज के बीच रोड पर बनी पुलिया डूब गई थी इधर आवाम नगर पर भी पुलिया के ऊपर से पानी बह रहा था।
- नया यार्ड- बारह बंगला क्षेत्र की पुलिया भी ओवरफ्लो हो गई थी।
- घाटली रपटे पर पानी आने से रास्ता बंद हो गया था।