स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इतना शातिर चोर-जानकर रह जाएंगे हैरान

Krishna Singh

Publish: Jul 27, 2019 18:50 PM | Updated: Jul 27, 2019 18:50 PM

Itarsi

पुलिस ने चोर को गिरफ्तार किया
शातिर चोर
कार से घूमकर करता रैकी और रात में करता चोरी
पकड़ाए नहीं इसलिए अकेला ही करता था चोरी

इटारसी. एक शातिर चोर जो ब्रांडेड कपड़े पहनकर और कार में बैठकर दुकानों पर और फिर रैकी करने बाद रात में उसी दुकान का ताला तोड़कर चोरी करता।

तीन महीने पहले ४ मई की रात पुरानी इटारसी व खेड़ा क्षेत्र में ५ दुकानों में इसी शातिर चोर ने ताले तोड़कर दुकानों से नगद और किराना सामग्री पर हाथ साफ किया था। आरोपी ने एक लैपटॉप भी चुराया था। इस मामले पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने में सफल हुई है। शातिर चोर ग्वालियर जिले के मुरार बंगाली कॉलोनी तिकोनिया निवासी सचिन पिता प्रेमसिंह गौहर उम्र ३७ साल है। इसे छिंदवाड़ा से गिरफ्तार किया।

- होटल में रुककर की रैकी
आरोपी चोर ने इटारसी में आकर प्रेसीडेंट होटल में रूम लिया। वह होटल के ४३२ नंबर रूम में ठहरा और यहां बताया कि वह ऑफिसियल काम से आया और फिर दिन में घूमकर दुकानों की रैकी की और चोरी करने के लिए हाईवे की दुकानों को चुना। आरोपी ने जितेंद्र चौधरी और मुकेश जैन की दुकान सहित ५ दुकानों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था।

-जमानत पर आते ही शुरू कर दी चोरी
आरोपी आदतन चोर है। ग्वालियर पुलिस ने इसे २०१७ में गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। जेल से जमानत मिलने के बाद बाहर आए आरोपी सचिन गौहर ने फिर चोरी की शुरुआत कर दी। आरोपी के अनुसार वह चोरी सुबह ४-५ बजे करता था जिससे लोग उस पर शक नहीं करे और सुबह घूमने फिरने वाले लोग उसे दुकानदार समझकर नजरअंदाज कर दें। पुरानी इटारसी में ऐसा हुआ भी था लोगों ने देख लिया था लेकिन उस पर ध्यान नहीं दिया।

- १४ किलो सोना था टारगेट
आरोपी के निशाने पर छिंदवाड़ा की एक गोल्ड गिरवी में रखकर लोन देने वाली बैंक थी। इस बैंक में १४ किलो सोने पर हाथ साफ करने की योजना थी आरोपी ने इस बैंक का ताला भी तोड़ लिया लेकिन तीन घंटे तक प्रयास के बाद भी वह उसका लॉकर तोडऩे में सफल नहीं हुआ और फिर वह इटारसी आ गया।

- डीलर के ऑफिस से ही करता था कार चोरी
आरोपी के अनुसार उसे कार चोरी करना होता था तो वह कार डीजल के यहां से चोरी करता था। पहले वह खरीददार बनकर सौदेबाजी करता और रात में डीलर के ऑफिस से ही चाबी और कागजात चोरी करके कार चुरा लेता था।

चोर की यह है विशेषता
- ब्रांडेड कपड़े पहनता था जिससे लोग उस पर शक नहीं करते थे और उससे सर कहकर बात करते।
- चोरी कार से रैकी करता
- चोरी को अकेला अंजाम देता क्योंकि सहयोगी के पकड़े पर पुलिस के सामने पोल खुलने की संभावना रहती है।

आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी को न्यायालय में पेश पुलिस रिमांड ली गई है। आरोपी से और भी चोरियों के खुलासे की संभावना है।
संजय रघुवंशी, एएसआई थाना इटारसी