स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मध्यप्रदेश के इस जिले में पंचायत सचिव ने उठाया किसान ऋण माफी योजना का लाभ

poonam soni

Publish: Jul 20, 2019 13:52 PM | Updated: Jul 20, 2019 13:52 PM

Itarsi

45208 रुपए की कर्ज माफी कराई सचिव ने, नियमानुसार नहीं ले सकते योजना का लाभ

कृष्णा राजपूत/इटारसी. प्रदेश सरकार ने किसानों को कर्ज से मुक्ति दिलाने के लिए जय किसान ऋण माफी योजना शुरू की थी। लेकिन इस योजना का लाभ कई अपात्रों ने भी उठाया है जिसमें सरकारी कर्मचारी भी शामिल हैं।

 

यह है मामला
ऐसा ही मामला सामने आया है। केसला ब्लॉक में। जहां पंचायत सचिव ने इस योजना का लाभ लिया है। सचिव वर्तमान में पंचायत सचिव है। सूची में कई ऐसे नाम हैं, जिन्होंने शासकीय सेवा में होते हुए भी योजना का लाभ लिया है।

 

पंचायत सचिव संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष को लाभ :

मरोड़ा निवासी मदनलाल पिता नन्हेलाल यादव पंचायत सचिव हैं। जिनकी जमीन सहेली में है। यह वर्तमान में दांडीवाड़ा में सचिव है। पिछले दिनों सस्पेंड किया जा चुका है। सरकारी सेवा में रहते हुए इनका 45208 रुपए कर्ज माफ हुए हैं। मदनलाल पंचायत सचिव संगठन का ब्लॉक अध्यक्ष है।

 

यह है नियम : कंडिका तीन के सातवें पाइंट के तीसरे पैरा में स्पष्ट है कि भारत सरकार तथा प्रदेश सरकार के समस्त शासकीय अधिकारी, कर्मचारी तथा निगम/अर्धशासकीय संस्थानों में कार्यरत कर्मचारी अधिकारी इस योजना का लाभ नहीं ले सकता है। इन्हें किसान ऋण माफी योजना के लिए अपात्र माना जाएगा।

 

कई अफसरों ने लिया फायदा :

सचिव के साथ ही वन विभाग सहित अन्य महकमें के अधिकारियों द्वारा भी इस योजना के लाभ लिया है। अब विभाग इनके नाम उजागर करने से बच रहा है।

 

मदनलाल यादव की सहेली में जमीन है। पंचायत सचिव हैं लेकिन किसान ऋण माफी योजना का लाभ के लिए आवेदन किया था।
हरकिशन मरकाम, सचिव सहेली पंचायत

 

ऋण माफी योजना की पात्रता सूची में इस तरह का कोई नाम यदि शामिल है तो जांच की जाएगी। इसकी वसूली भी की जाएगी।
हरेंद्र नारायण, एसडीएम