स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

युवती बोली मुझे तीसरी मंजिल से नीचे फेंक दिया फिर बस स्टैंड के पास छोडक़र भाग गए दोस्त

Hussain Ali

Publish: Aug 19, 2019 11:37 AM | Updated: Aug 19, 2019 11:37 AM

Indore

युवती ने तीसरी मंजिलों से युवकों द्वारा फेंकने का आरोप लगाकर सनसनी फैला दी।

इंदौर. एमवाय अस्पताल में रविवार रात घायल अवस्था में पहुंची युवती ने तीसरी मंजिलों से युवकों द्वारा फेंकने का आरोप लगाकर सनसनी फैला दी।
पीथमपुर निवासी 21 वर्षीय युवती का आरोप है कि तीन युवकों ने उसे तीसरी मंजिल से नीचे फेंक दिया और फिर रिक्शा में बैठाकर सरवटे बस स्टैंड के पास छोडक़र भाग गए। छोटी ग्वालटोली टीआई धर्मवीरसिंह नागर ने बताया, सूचना मिलने पर पुलिस जांच के लिए एमवायएच पहुंची लेकिन युवती के बयान नहीं हो पाए। इस बीच उसका दोस्त सुधीर सिंह अस्पताल पहुंच गया। सुधीर ने बताया कि युवती से उसकी दोस्ती थी, लेकिन 4 महीने पहले से बात बंद है। रविवार को वह उसके घर पहुंची तो तीसरी मंजिल स्थित फ्लैट का दरवाजा नहीं खोला तो वह बालकनी में कूद गई। ज्यादा चोट नहीं थी, वहां से खुद रिक्शा में बैठकर रेलवे स्टेशन के लिए रवाना हुई थी, अस्पताल कैसे पहुंची पता नहीं। पुलिस युवक से पूछताछ कर रही है।

महिला डॉक्टर नहीं होने से इलाज में देरी
युवती को अंदरुनी चोट थी। इमरजेंसी में उस समय महिला डॉक्टर मौजूद नहीं थी, जिसके कारण करीब एक घंटे तक उसका सही इलाज शुरू नहीं हो पाया। महिला डॉक्टर नहीं होने से उसे किस तरह की चोट लगी है, इसकी जांच भी किसी ने नहीं की।