स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Honeytrap : आरोपी के वकील ने कहा - श्वेता की आंख में परेशानी हैं, उसे पथरी भी है, कोर्ट ने जेल भेजा

Reena Sharma

Publish: Sep 20, 2019 16:49 PM | Updated: Sep 20, 2019 17:13 PM

Indore

-कोर्ट ने पुलिस को रिमांड पर देने से किया इंकार, 4 अक्टूबर तक भेजा जेल

-हनीट्रैप मामले की तीनों महिला आरोपियों को कोर्ट में किया पेश

इंदौर. प्रदेश के बहुचर्चित हनी ट्रेप मामले में आरोपियों से शुक्रवार को महिला थाने में करीब 3 घंटे तक कड़ी पूछताछ के बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया। पेश करने के पहले आरोपी महिलाओं का मेडिकल कराया गया। क्राइम ब्रांच और एटीएस ने महिलाओं से कई सवाल किए। जानकारी के मुताबिक महिलाओं की सुनवाई न्यायाधीश राकेश कुमार पाटीदार की कोर्ट में हुई। कोर्ट ने आरोपियों को पुलिस रिमांड में देने से इंकार कर दिया, इन्हें चार अक्टूबर तक जेल भेज दिया गया है।

Honeytrap : आरोपी के वकील ने कहा - श्वेता की आंख में परेशानी हैं, उसे पथरी भी है, मेडिकल ट्रीटमेंट की जरूरत

यह भी मालूम हुआ है कि महिला आरोपियों ने पूछताछ में कई बड़े नेता, अधिकारियों के नाम बताए हैं। कोर्ट में मीडिया द्वारा वीडियो बनाने को लेकर परिजनों ने विरोध भी किया।

पलासिया पुलिस ने शुक्रवार को भोपाल से गिरफ्तार तीनों महिला आरोपी श्वेता, बरखा और श्वेता को 25 नंबर कोर्ट में न्यायाधीश राकेश कुमार पाटीदार के समक्ष पेश किया। यहां श्वेता जैन के वकील ने एक पत्र कोर्ट में पेश करते हुए बताया कि श्वेता को आंखों की समस्या होने के साथ ही पथरी की शिकायत है, जिस कारण उसे मेडिकल ट्रीटमेंट दिया जाए, लेकिन अभी केवल पत्र पेश हुआ है, जिस कारण न्यायाधीश ने इस पर कोई सुनवाई नहीं की। इसके पहले मामले में पुलिस ने आरोपियों के पास से मिले पेन ड्राइव, सीडी, लैपटॉप सहित अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को जांच के लिए लैब भेज दिए गए हैं। वहीं, पुलिस ने देर रात तक आरोपियों ने पूछताछ की।

हाईप्रोफाइल रैकेट की मुखिया के पास कई राजनेताओं और अफसरों की मिली सीडी

पुलिस ने बताया हमें एक सीडी मिली है लेकिन अभी उसकी जांच की जाएगी। उन्होंने कहा यह महिलाएं नेताओं और अफसरों के पास कॉल गर्ल भेजकर उनके आपत्तिजनक वीडियो बनाकर उन्हें वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करती थीं। कुछ दिन पहले भी गिरोह की मुखिया ने एक सीनियर अफसर के साथ का आपत्तिजनक वीडियो वायरल किया था। यह बात भी सामने आई है कि हाईप्रोफाइल रैकेट की मुखिया के पास से कई राजनेताओं और अफसरों की सीडी भी मिली है।