स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

VIDEO : गोपाल भार्गव के विवादित बोल - 9 महीने में तो शिशु हो जाता है, यह प्रदेश सरकार कब होगी पता नहीं

Hussain Ali

Publish: Aug 22, 2019 18:48 PM | Updated: Aug 22, 2019 18:48 PM

Indore

- नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने प्रदेश सरकार का किया घेराव

इंदौर. नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव गुरुवार को इंदौर में थे। यहां प्रेस क्लब में पत्रकारों से रूबरू होने के दौरान उन्होंने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को लेकर एक विवादित बयान दे दिया। उन्होंने कहा कि 9 महीने में तो शिशु हो जाता है लेकिन यह प्रदेश सरकार कब होगी मुझे समझ नहीं आ रहा है। न तो किसानों का ऋण माफ किया गया और न युवाओं को बेरोजगारी भत्ता मिल रहा है।

उन्होंने अलग-अलग मोर्चो पर प्रदेश सरकार का घेराव किया। भार्गव ने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने अपना एक भी वादा पूरा नहीं किया है। यदि पिछले 9 महीने में प्रदेश सरकार ने 9 लोगों को भी नौकरी दी हो तो मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा। अपराध, भ्रष्टाचार और लॉ एंड ऑर्डर की खराब स्थिति पर कहा कि प्रदेश सरकार के मंत्रियों की आदत हो चुकी है कि कोई भी परेशानी आती है तो पिछली सरकार को कोसने लग जाते हैं। कांग्रेस सरकार अब जिम्मेदारी लें और वादे पूरे करें।

अवैध वसूली शुरू न हो जाए

प्रदेश में मिलावटखोरों के खिलाफ चलाई जा रही मुहिम पर बोले कि इसमें सरकार को छोटे कारोबारियों का ध्यान रखा जाना चाहिए। इस तरीके के अभियान से तो आने वाले समय में अवैध वसूली शुरू हो जाएगी। प्रदेश सरकार को गिराने के सवाल पर उन्होंने कहा कि फिलहाल हमारे केंद्रीय नेतृत्व की प्राथमिकता देश के अहम मुद्दे हैं। अनुच्छेद 370, तीन तलाक सहित राम मंदिर सहित पार्टी के अन्य वादे पूरे किए जाएंगे।

चिदंबरम के खिलाफ कोई पक्षपात नहीं

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के खिलाफ सीबीआई की कार्रवाई को कांग्रेस द्वारा पक्षपात बताने पर भार्गव ने कहा कि यह आरोप गलत है। मामला सुप्रीम कोर्ट में है यदि सीबीआई की कार्रवाई गलत होगी तो कोर्ट फैसला देगी।