स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुनिराबाद में घुसा पानी

Zakir Pattankudi

Publish: Aug 14, 2019 20:15 PM | Updated: Aug 14, 2019 20:15 PM

Hubli

मुनिराबाद में घुसा पानी
-तुंगभद्रा नहर पर गेट लगाने की कार्रवाई विफल
कोप्पल/हुब्बल्ली

मुनिराबाद में घुसा पानी
कोप्पल/हुब्बल्ली
तुंगभद्रा बाईंछोर की ऊपरी नहर गेट का मरम्मत कार्य एक दिन बितने के बाद भी अधूरा होने से नहर से बाहर आ रहा पानी समीप के मुनिराबाद गांव में घुसा है।
तुंगभद्रा बांध के बाईंछोर की ऊपरी नहर का गेट मंगलवार को टूटने से निर्धारित से अधिक पानी बगल के पंपावन के जरिए निछले इलाके में बहना शुरू किया था। तीस क्यूसेक क्षमता की नहर को 40-50 क्यूसेक पानी आने से अतिरिक्त पानी तेज रफ्तार के साथ बाहर बहा था। मंगलवार सुबह से ही गेट की मरम्मत का कार्य चल रहा है। रेत की बोरियों को रखने के बाद भी पानी की तेज रफ्तार से रेत की बोरियां बह रही हैं। लोहे की मोटी प्लेट लगाने का प्रयास भी काम नहीं आया। इसके चलते बेलगावी से तैराकी विशेषज्ञ आए हैं और पानी रोकने का प्रयास कर रहे हैं।
सतर्कता कार्रवाई के तौर पर नहर की मेंड काटकर नदी में पानी बहाने की व्यवस्था की गई है। इसके बावजूद अधिक पानी पंपावन में भरने से मुनिराबाद गांव में घुस रहा है। निछले इलाकों के घरों में पानी भर गया है। स्थानीय प्रशासन ने लोगों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। पानी के नियमित तौर पर बहकर आने से भयभीत लोग घरों को छोड़कर सुरक्षित जगहों जा रहे हैं।

तीन बेटियों के साथ तालाब में कूदी महिला, एक बच्ची की मृत्यु
-घरेलू हिंसा का मामला
धारवाड़
घरेलू हिंसा से तंग आकर एक महिला ने मंगलवार देर रात्रि अपने तीन बेडियों के साथ तालाब में कूद कर आत्महत्या का प्रयास किया।
आत्महत्या का प्रयास करने वाली महिला की पहचान केलगेरी निवासी रत्नव्वा मेदार (32) के तौर पर की गई है। रत्नव्वा का विवाह जमखंडी के एक व्यक्ति से किया गया था। रत्नव्वा के चार बच्चे थे, जिनमें तीन लड़कियां तथा एक पुत्र है। तालाब में कूदने से पहले अपने सात माह के शिशू को कल्मेश्वर मंदिर परिसर में छोड़कर गई थी। पंचमी के लिए मायके आई रत्नव्वा अपनी तीन बेटियों के साथ केलगेरी तालब में कूद गई। इन्हें तालाब में कूदता देख सेवा निवृत्त सैनिक बसनगौड़ा पाटील ने दो बच्चियों तथा मां को बचा कर जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इस हादसे में रत्नव्वा की पांच वर्ष की पुत्री की मृत्यु हुई है। अभी तक लाश नहीं मिली है। उपनगर थाना पुलिस दमकल कर्मियों के साथ लाश को तलाश रही है। उपनगर थाना पुलिस मामला दर्ज कर तफ्तीश कर रही है।

स्कूल वैन पर गिरा पेड़
-सभी बच्चे सुरक्षित
मंगलूरु
शहर के नंतूरु के पास बुधवार सुबह चलती स्कूल वैन पर पेड़ गिरा। खुशकिस्मती से वैन में स्थित सभी बच्चे सुरक्षित हैं, किसी को कोई चोट नहीं लगी है।
मंगलूरु पुलिस आयुक्त डॉ. हर्ष ने बताया कि शहर के बाहरी इलाके में स्थित एक निजी शिक्षण संस्था की वैन बच्चों को ले जा रही थी, उसी दौरान नंतूरु के पास बुधवार सुबह 9 बजे यह हादसा हुआ है। वैन में 17 बच्चे थे। पेड़ गिरने से वैन को थोड़ी क्षति पहुंची है।
हादसे के कारण सड़क यातायात पुरी तरह अस्तव्यस्त हुआ। पुलिस उपायुक्त तथा कदरी यातायात थाना पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर पेड़ को हटाने में मदद की।

नदीं में फंसे पुलिस कान्सटेबल को बचाया
-चार घंटे तक किया संघर्ष
हावेरी
शहर की वरदा नदी करजगी पुल के पास दुपहिया वाहन समेत नदी में बह गए एक पुलिस कान्सटेबल को दमकल दल के कर्मचारियों ने बुधवार को बचाया।
पुलिस कान्सटेबल यल्लप्पा कोरवी मंगलवार रात्रि 10 बजे के करीब कर्तव्य पूरा कर वापस घर लौटते समय वरदा नदी के बहाव में फंसकर बह गया था। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने स्थानीय निवासियों के साथ मिलकर यल्लप्पा की तलाशी शुरू की। पुल से थोड़ी सी दूरी पर पानी में ही कान्सटेबल फंसा था। उनकी आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे दमकल कर्मी तथा स्थानीय लोगों ने यल्लप्पा को बचा लिया।
गदग जिला शिरहट्टी तालुक संतिसिग्ली गांव के निवासी यल्लप्पा कागिनेले पुलिस थाने में कार्यरत है। लगभग चार घंटे से अधिक समय बाढ़ में फंसे यल्लप्पा बचाव के लिए काफी संघर्ष किया।