स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कर्ज से परेशान दम्पती ने की आत्महत्या

Zakir Pattankudi

Publish: Aug 19, 2019 20:11 PM | Updated: Aug 19, 2019 20:11 PM

Hubli

कर्ज से परेशान दम्पती ने की आत्महत्या
-बाढ़ से फसल नष्ट होने पर थे मायूस
बागलकोट

कर्ज से परेशान दम्पती ने की आत्महत्या
बागलकोट
बाढ़ से फसल नुकसान होने से मायूस जिले के बादामी तालुक के बाचिनगुड्डा गांव निवासी एक युवा दम्पती ने रविवार देर रात आत्महत्या कर ली।
मृतकों की पहचान शिवलीला बेल्ली (21) व रमेश बेल्ली (28 ) के तौर पर की गई है। रमेश ने फंदा लगा कर जान दे दी वहीं शिवलीला ने जहर पीकर आत्महत्या कर ली।
उन्होंने नंदकेश्वर पीकेपीएस में ट्रेक्टर पर एक लाख 98 हजार रुपए का ऋण, फसल ऋण 50 हजार रुपए, पट्टदकल के कालीदास बैंक से सिंचाई तथा खेत में मेड निर्माण के लिए 4.50 लाख रुपए ऋण, होसूर गांव के आईडीएफसी बैंक से 30 हजार 775 रुपए ऋण समेत कुल 7.19 लाख रुपए ऋण लिया था। उन्होंने छह एकड़ जमीन पर सूरजमुखी, प्याज तथा मक्का उगाया था परन्तु बाढ़ में फंस कर फसल नष्ट होने से ऋण से घबरा कर युवा दम्पती ने आत्महत्या का रास्ता अपनाया। बादामी थाना पुलिस मामला दर्ज कर तफ्तीश कर रही है।

 

गिरफ्तारी के भय से पति-पत्नी और पुत्री ने जहर खाया
-तीनों की हालत नाजुक
-हत्या के मामले में पुलिस पूछताछ से डर कर उठाया कदम
हुब्बल्ली
हावेरी जिले के शिग्गांव में दो दिन पूर्व हुई हत्या के मामले में गिरफ्तारी के भय से शहर के उणकल तालाब के पास रविवार को एक दम्पती व उनकी पुत्री ने विष पीकर आत्महत्या की कोशिश की। तीनों की हालत नाजुक बताई जा रही है।
आत्महत्या का प्रयास करने वालों की पहचान रविंद्र मालवदे (6 5), सुधा मालवदे (6 0) तथा इनकी पुत्री दिव्या मालवदे के तौर पर की गई है।
पुिलस ने बताया कि शिग्गांव में 16 अगस्त की रात्रि शांताबाई गंगाधरप्पा मालवदे (6 8 ) की गला घोंटकर हत्या की गई थी। शिग्गांव थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया था। जांच के दौरान पुलिस को पता चला था कि शांताबाई की हत्या से पूर्व उनके घर में सम्पत्ति के लिए पारिवारिक लड़ाई हुई थी। इनके परिजनों से पूछताछ करने पर रविंद्र दंपती पर हत्या के संदेह व्यक्त किया था। इसकी जानकारी मिलने पर मालवदे दंपती ने गिरफ्तारी के भय से बेटी के साथ हुब्बल्ली के उणकल तालाब आकर विष पिया और असत्महत्या का प्रयास किया। इन्हें विष पीता देख इनकी बेटी दिव्या ने भी विष पी लिया।
इसी दौरान दंपती की तलाशी के लिए पुलिस ने मोबाइल फोन लोकेशन खंगाली तो उणकल तालाब के पास होने का पता चला। वहां पहुंचने तक तीनों जीवन व मृत्यु के बीच लड़ रहे थे। तीनों की हालत नाजुक थी। पुलिस ने तीनों को किम्स अस्पताल में भर्ती कराया।