स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ट्रैफिक पुलिस ने दी चालान काटने और गाड़ी सीज करने की धमकी, शख्स को आया हार्ट अटैक हो गई मौत

Prakash Chand Joshi

Publish: Sep 10, 2019 16:24 PM | Updated: Sep 10, 2019 16:24 PM

Hot on Web

  • इंदिरापुरम का है मामला

नई दिल्ली: आजकल आप जिसको भी देखों वो चालान की बातें करता हुआ आपको मिल जाएगा। क्योंकि चालान का फाइन जो बढ़ गया है। ऐसे में कई लोगों में इसको लेकर गुस्सा भी है, तो कई लोग इस फैसले को सही ठहरा रहे हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि चालान के चक्कर में एक शख्स की जान चली गई।

23 हजार का चालान कटने पर पब्लिक के आए ऐसे रिएक्शन, चालान की कॉपी वायरल

दरअसल, मूलचंद शर्मा अपने भांजे से मिलने के लिए अपने बेटे गौरव के साथ कार में इंदिरापुरम जा रहे थे। गौरव ड्राइव कर रहा था, उनके पिता मूलचंद उनके साथ आगे वाली सीट पर बैठे थे और उनकी पत्नी पीछेल वाली सीट पर। इसी दौरान शाम लगभग 6 बजे के आसपास मॉडल टाउन अंडरपास पार करके एनएच-9 पर चढ़ने के बाद सामने इंदिरापुरम साइड में ट्रैफिक पुलिस खड़ी थी। पुलिस ने उन्हें रोका और गाड़ी साइड लगाई।

मूलचंद के मुताबिक, जब ट्रैफिक पुलिस ने उनकी गाड़ी रुकवाई तो उन्होंने उनकी गाड़ी के बोनट पर डंडे मारे। इस पर गौरव ने नाराजगी जताई। लेकिन पुलिस ने चालान करने और गाड़ी सीज करने की धमकी देते हुए गाड़ी की फोटो खींचना शुरु कर दिया। ये सब देख गौरव को चक्कर आए और वो बेहोश हो गया। ऐसा होते ही पुलिसकर्मी वहां से गायब हो गया। फिर पिता किसी की मदद से गौरव को लेकर फोर्टिस अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टर ने उसे भर्ती करने से मना किया। ऐसे में वो गोरव को कैलाश अस्पताल ले गए। जहां पर 10 से 20 मिनट के बाद डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं मूलचंद ने पीएम नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से इंसाफ की गुहार लगाई है।