स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गांधी जयंती की माफी योजना के तहत पांच को रिहा होंगे पंजाब के 36 कैदी

Prateek Saini

Publish: Oct 03, 2018 21:08 PM | Updated: Oct 03, 2018 21:08 PM

Hoshiarpur

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गांधी जयंती के इस अवसर पर देश भर की जेलों में सजा काट रहे कुछ चुनिंदा कैदियों की रिहाई की घोषणा की थी...

(चंडीगढ़/होशियारपुर): महात्‍मा गांधी के 150वीं जयंती पर जहां देशभर की जेलों से कैदियों की रिहाई की घोषणा की गई थी वहीं पंजाब की जेलों में सजा काट रहे 36 कैदियों की रिहाई की तैयारी भी की जा रही है। पंजाब के इन कैदियों के लिए गांधी जयंती आजादी का तोहफा लेकर आई है। जेल प्रशासन इन्हें आगामी पांच अक्टूबर को रिहा करेगा। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गांधी जयंती के इस अवसर पर देश भर की जेलों में सजा काट रहे कुछ चुनिंदा कैदियों की रिहाई की घोषणा की थी। पंजाब की जेलों से की जाने वाली रिहाई इसी घोषणा का हिस्‍सा है।

 

पंजाब के एडीजीपी (जेल) इंदर प्रीत सिंह सहोता ने बताया कि कुछ महत्‍वपूर्ण कागजी कार्यवाही पूरी न होने की वजह से इन कैदियों को रिहा नहीं किया जा सका है। इन सभी 36 कैदियों को 5 अक्‍टूबर को रिहा कर दिया जाएगा। इन कैदियों में दो महिलाएं भी शामिल हैं। उन्‍होंने बताया कि सजा माफी की विभिन्‍न श्रेणियों के तहत इन कैदियों की रिहाई तय की गई है।

 

गृह मंत्रालय की अधिसूचना के अनुसार 55 साल से अधिक उम्र की महिला एवं किन्‍नर कैदी और 60 साल से अधिक उम्र के पुरुष कैदी इस खास राहत के पात्र है। इसके अतिरिक्‍त यह जरूरी होगा कि वे अपनी आधी सजा काट चुके हों। गंभीर रूप से बीमार और शारीरिक रूप से अपाहिज कैदियों को भी उस दशा में माफी दी जा सकती है जबकि वे दो तिहाई सजा पूरी कर चुके हों। लेकिन केंद्र सरकार के कानून, एनडीपीएस एक्‍ट के तहत दोषी,आतंकवादी, हत्‍या एवं बलात्‍कार के दोषियों को भी इस रिहाई की पात्रता नहीं दी गई है। इसके साथ ही आर्थिक अपराधियों को भी इस सजा माफी से बाहर रखा गया है।

 

यह भी पढे: अन्नदाताओं को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, रबी फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाया गया