स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पंजाब कांग्रेस के पिछडा वर्ग नेताओं ने लोकसभा चुनाव में अधिक टिकट देने की मांग की

Prateek Saini

Publish: Feb 03, 2019 21:41 PM | Updated: Feb 03, 2019 21:41 PM

Hoshiarpur

बैठक में भटिंडा,फिरोजपुर,आनन्दपुर साहिब और होशियारपुर लोकसभा सीटों के संभावित उम्मीदवारों पर मंथन किया गया है...

 

(चंडीगढ,होशियारपु)र: पंजाब में कांग्रेस ने लोकसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों के चयन पर मंथन शुरू कर दिया है। इस मुद्दे पर शनिवार को आयोजित बैठक में पार्टी के पिछडा वर्ग नेताओं ने लोकसभा चुनाव के टिकटों में उनका हिस्सा बढाने की मांग रखी।

इस बैठक में इन लोकसभा क्षेत्रों के विधायक,पार्टी जिलाध्यक्ष और ब्लॉक अध्यक्ष शामिल हुए। बैठक की अध्यक्षता पार्टी की पंजाब प्रभारी आशा कुमारी और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड कर रहे थे। पिछडा वर्ग के नेताओं ने इस बैठक में मुद्दा उठाया कि पार्टी के अहम स्थान जाटों को दिए गए है। विधायक और पार्टी जिलाध्यक्ष पदों में जाटों की संख्या ज्यादा है। पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष हंसपाल ने कहा कि पिछडा वर्ग पर्याप्त राजनीतिक प्रतिनिधित्व न देने के कारण असंतोष है।

इस बैठक में प्रत्याशी के बारे में राय देने के लिए गुप्त मतदान प्रणाली अपनाई गई थी। लेकिन चर्चा के दौरान भी प्रतिनिधियों ने अपनी राय रखी। भटिंडा लोकसभा क्षेत्र के प्रतिनिधियों ने वहां आम आदमी पार्टी की मौजूदगी की चर्चा करते हुए स्थानीय व युवा प्रत्याशी उतारने का सुझाव दिया। फिरोजपुर लोकसभा क्षेत्र के भागीदारों ने दलबदल कर आने वालों और पिछले लोकसभा एवं विधानसभा चुनावों में पार्टी के खिलाफ काम करने वालों को टिकट न देने पर जोर दिया।