स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इमरजेंसी 1975:जेल जाने वालों को 10 हजार प्रति माह पेंशन, बसों में मुफ्त सफर की सुविधा दे रही हरियाणा सरकार

Prateek Saini

Publish: Jun 25, 2019 15:41 PM | Updated: Jun 25, 2019 15:41 PM

Hisar

Indian Emergency: इमरजेंसी ( Emergency 1975 ) के 44 वर्ष पूरे होने के उपक्ष्य पर ( 44 Anniversary Of Emergency ) हरियाणा सरकार आपातकाल ( Indian Emergency ) के समय जेल जाने वालों को आज सम्मानित करने वाली हैं। इसके लिए सरकार ( Haryana Government ) की ओर से सम्मान समारोह आयोजित किया गया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ( Haryana CM ) स्वयं इसमें हिस्सा लेने वाले है।

 

(चंडीगढ़,हिसार): हरियाणा देश का संभवतः पहला ऐसा राज्य है, जहां इमरजेंसी ( Indian Emergency ) के दौरान जेल जाने वाले लोगों को सम्मान दिया गया है। इससे पहले हरियाणा में इस श्रेणी के लोगों को अहमियत नहीं दी जाती थी। पहली बार सत्ता में आने के बाद भाजपा सरकार इस दिशा में एक योजना बनाकर आगे बढ़ी। सत्ता में आने के बाद हरियाणा सरकार ( Haryana government ) ने पहली बार वर्ष 2016 में ऐसे 891 लोगों को चिन्हित करके ताम्र पत्र देकर सम्मानित किया, जिन्होंने आपातकाल के दौरान जेल काटी थी। यही नहीं सरकार द्वारा वर्तमान में 'शुभ्रज्योत्सना मुफ्त बस सफर योजना' ( Shubhra Jyotsna Free Bus Yatra Scheme ) के तहत जेल जाने वाले पुरूष अथवा महिला तथा उनके एक सहयोगी को हरियाणा राज्य परिवहन ( Haryana Roadways ) की बसों में मुफ्त बस सफर की सुविधा प्रदान की जा रही है। यह योजना राज्य परिवहन की देशभर में जाने वाली बसों में लागू होती है।


इसके अलावा हरियाणा सरकार द्वारा इस श्रेणी के लोगों के लिए पेंशन योजना भी लागू की गई है। वर्तमान में हरियाणा में 503 लोगों को 'शुभ्रज्योत्सना पेंशन योजना' ( Shubhra jyotsna pension scheme ) के तहत दस हजार रूपए प्रति माह पेंशन की दी जा रही है। हरियाणा के समाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग से मिली जानकारी के अनुसार हरियाणा में विभागीय अधिकारियों के माध्यम से 595 लोगों द्वारा आवेदन किया गया, जिनमें से 503 की पेंशन लागू हो चुकी है और 87 के आवेदनों की जांच का काम जारी है। इसी प्रकार 1039 लोगों द्वारा ई-दिशा के माध्यम से आवेदन किया गया है। जिनके दस्तावेज पूरे करवाए जा रहे हैं।

 

 

सम्मान समारोह आज, सीएम लेंगे हिस्सा

 

Indian Emergency
Haryana CM IMAGE CREDIT:

आज हरियाणा सरकार ( Haryana Government ) की ओर से इमरजेंसी के दौरान जेल जाने वाले नेताओं के सम्मान में समारोह का आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम को 'लोकतंत्र सेनानी सम्मान समारोह' नाम दिया गया है। सामुदायिक केंद्र, सेक्टर 9, पंचकुला में आयोजित होने वाले समारोह में खुद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ( CM Manohar Lal Khattar ) हिस्सा लेने वाले हैं।

 

बता दें कि आज से 44 साल पहले 25 जून 1975 से लेकर 21 मार्च 1977 तक तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ( Indira Gandhi ) के द्धारा पूरे देश में आपातकाल यानि इमरजेंसी लगा दि गई थी। आज इमरजेंसी की 44वीं वर्षगाठ ( 44 Anniversary Of Emergency ) है। इमरजेंसी के दौरान विपरित विचारधारा वाले राजनीतिक प्रतिद्धंदियों को जेल में डाल दिया गया था। पूरा देश मानो थम सा गया था। इस दौरान पूर्व उपराष्ट्रपति भैरों सिंह शेखावत ( Bhairon Singh Shekhawat ), पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ( Lal Krishna Advani ) , पूर्व उपप्रधानमंत्री ताऊ देवीलाल ( Tau Devi Lal ) , पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर ( Chandrasekhar ) , पूर्व रक्षा मंत्री जार्ज फर्नांडिस ( George Fernandes ), बीजू पटनायक ( Biju Patnaik ) समेत जनसंघ के सभी दिग्गज नेताओं को हरियाणा की रोहतक जेल में डाल दिया गया था। आलम यह था कि जेल ही छोटी हो पड़ गई थी। इस दौरान कैसा माहौल था यह बहुत रोमाचिंत कर देने वाला है।

यह जानने के लिए पढ़े हमारी रिपोर्ट:— इमरजेंसी के 44 साल: '25 जून 1975' जब जेल पड़ गई छोटी, और जनसंघ के तमाम दिग्गज नेता हुए एक जगह