स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अखिलेश की बिसात पर भारी पड़े बसपा से निलंबित चल रहे कद्दावर पूर्वमंत्री रामवीर उपाध्याय, दिखाई ताकत, सपा से छीनी कुर्सी

Amit Sharma

Publish: Jul 29, 2019 18:04 PM | Updated: Jul 29, 2019 18:04 PM

Hathras

रामवीर उपाध्याय जिला पंचायत अध्यक्ष पद के उपचुनाव में अपने छोटे भाई विनोद उपाध्याय को जीत दिलाने में कामयाब रहे हैं।

हाथरस। बहुजन समाज पार्टी (BSP) से निलंबित चल रहे कद्दावर पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय ने एक बार फिर अपनी ताकत दिखाई है। रामवीर उपाध्याय जिला पंचायत अध्यक्ष पद के उपचुनाव में अपने छोटे भाई विनोद उपाध्याय को जीत दिलाने में कामयाब रहे हैं। विनोद उपाध्याय ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की ओमवती यादव को एक वोट से हरा दिया है।

ramveer upadhyay

हाथरस जिला पंचायत अध्यक्ष पद के उपचुनाव के कड़े मुकाबले में रामवीर उपाध्याय के छोटे भाई विनोद उपाध्याय ने एक मत से जीत दर्ज की है। सपा की तरफ से जिला पंचायत अध्यक्ष पद की उम्मीदवार ओमवती यादव को 12 मत और विनोद उपाध्याय को 13 मत प्राप्त हुए।

Ramveer upadhyay

सुबह से ही रामवीर और ओमवती के समर्थकों का कलक्ट्रेट के बाहर जुटना शुरू हो गया था। रामवीर की सोशल मीडिया पर अपील के बाद उनके समर्थक बड़ी संख्या में कलक्ट्रेट पहुंच गए। चुनाव परिणाम घोषित होने तक कलेक्ट्रेट के बाहर समर्थक डटे रहे। रिजल्ट डिक्लेयर होने के बाद ओमवती यादव को कड़ी सुरक्षा के बीच उनकी गाड़ी तक भिजवाया गया। रामवीर उपाध्याय के समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की।