स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

स्वास्थ्य विभाग के जागरुकता अभियान का दिखा असर, मलेरिया के मरीजों में आई कमी

Dhirendra yadav

Publish: Aug 17, 2019 17:50 PM | Updated: Aug 17, 2019 17:50 PM

Hathras

मलेरिया को लेकर स्वास्थ्य विभाग के जागरुकता अभियान का असर दिखाई दे रहा है।

हाथरस। मलेरिया को लेकर स्वास्थ्य विभाग के जागरुकता अभियान का असर दिखाई दे रहा है। वर्ष 2018 में जनवरी से जुलाई तक की अपेक्षा में इस बार मलेरिया के मरीजों में कमी आई है। जनपद में 2018 में जनवरी से जुलाई तक कुल 16717 स्लाइड बनीं थीं, जिनमें 60 पॉजिटिव मरीज मिले थे। वहीं इस बार जनवरी से जुलाई तक मलेरिया की 16491 स्लाइड बनीं हैं, जिनमें 45 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि मलेरिया को बहुत हद तक कंट्रोल कर लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें - हॉस्पीटल के चेंजिंग रूम में पहुंचा डॉक्टर, नर्स से बोला मेरे सामने बदलो कपड़े, इसके बाद पूरे स्टाफ ने देखा ऐसा दृश्य जो...


चलाया गया विशेष अभियान
विभाग के अनुसार पिछले साल मलेरिया के पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद विभाग सतर्क हो गया था। इसके बाद से मच्छर जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए विभाग द्वारा विशेष अभियान चलाए जा रहे हैं। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि जहां अधिक मात्रा में जल एकत्र हो जाता है। वहां ये बीमारी वाले मच्छर पनपते हैं, इसलिए हमें पानी को ज्यादा समय तक एकत्र होने से रोकना चाहिए। विभाग द्वारा समय-समय पर जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें - वकीलों ने बताई ऐसी बात कि DM रह गए दंग, बना दी कमेटी, हर माह होगी समीक्षा

इस तरह मिली सफलता
सहायक मलेरिया अधिकारी एसपी गौतम ने बताया कि पिछले वर्षों के अपेक्षा अधिक फोगिंग करवाई गई। गांव - गांव जाकर जागरुकता अभियान चलाए गए, जहां पेम्पलेट और पोस्टर का भी सहारा लिया गया। मलेरिया की रोकथाम के लिए जागरुकता जरुरत है। वहीं, जिला मलेरिया अधिकारी एम जौहरी ने बताया कि स्कूलों में जाकर विभाग द्वारा जागरुकता अभियान चलाए गए, स्कूलों में असेंबली में बीमारी से बचाव के तरीके बताए गए।

ये भी पढ़ें - Article 370 भाजपा विधायक पर सपा नेता ने साधा निशाना, कह दी ये बड़ी बात, देखें वीडियो