स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घर में खुदाई के वक्त मिला लाखों का खजाना, फिर एक दिन खजाने ने आफत में डाल दी जान , मामले को जानकर हो गए हैरान

Ruchi Sharma

Publish: Sep 07, 2019 17:35 PM | Updated: Sep 07, 2019 17:35 PM

Hardoi

घर में खुदाई के वक्त मिला लाखों का खजाना मगर फिर एक दिन खजाने ने आफत में डाल दी जान , मामले को जानकर हो गए हैरान

हरदोई. अक्सर हम घरों में खजाने होने की बातें सुनते रहते है, सपने आने की बातें होती है और कई बार तो लोग इन्ही सपनों को सच मानकर खाजाने को लेकर तरह तरह के जतन करते सुने पाए जाते है। मगर हम आपको जिस खजाने के बारे में बताने जा रहे है वो कोई जादू या फिर सपनों में आने वाला न होकर खुद के पुश्तेनी घर में होने और अनायास मिलने के बाद आफत में डालने की कहानी जैसा है।

जी हां यूपी के हरदोई जिला मुख्यालय से करीब 20 किमी दूर स्थित सांडी कस्बे के मोहल्ला खिड़किया में अपने पुश्तेनी घर के एक हिस्से में नींव की खुदाई के दौरान मोनू उर्फ उत्कर्ष पुत्र राजकुमार को लाखों रुपए मूल्य के सोने आदि के जेवरात आदि से भरा घड़ा मिला था जिसके बाद उनके परिवार की खुशी का ठिकाना नहीं रहा मगर घर में खजाना मिलने की चर्चा फैलते हुए पुलिस तक पहुंच गई जिसके बाद पुलिस ने लाखों का खजाना बरामद कर आगे की कार्रवाई के लिए शासन को सूचना दी है ।

पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि वहां पर 650 ग्राम सोने के जेवर, 4 किलो 538 ग्राम चांदी के जेवर और एक तीन किलो वजन का पीली धातु का लोटा भी निकला था। खुदाई में निकले इन जेवरों को लेकर चर्चा फैल गई थी, लेकिन मोनू ने कोई जेवर निकलने से इनकार किया था। इस मामले में उन्होंने गोपनीय जांच शुरू कराई थी। जिसके लिए स्वॉट टीम के प्रभारी अरविंद यादव को उक्त मामले की विवेचना में लगाया गया था। स्वॉट टीम के प्रभारी ने सांडी के थानाध्यक्ष रामलखन के साथ मिलकर पूरे मामले की जांच की और खजाने के सच तक पहुंच गए और खजाने को बरामद कर लिया गया ।