स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

KBC में आसान से सवाल पर अटक गए हरदोई के IAS, जवाब के लिए लेना पड़ा हेल्पलाइन

Ruchi Sharma

Publish: Oct 03, 2019 13:29 PM | Updated: Oct 03, 2019 13:57 PM

Hardoi

 

-कौन बनेगा करोड़पति' में नजर आए हरदोई के IAS आशीष सिंह, जीते इतने लाख रुपए

हरदोई. जिले के तेरवा गांव के मूल निवासी रहे 2010 बैच के आईएएस अफसर आशीष सिंह को जब SONYTV के KBC कार्यकम में 2 अक्टूबर 150 वी गांधी जंयती पर विशेष एपिसोड में कर्मवीर DR बिंदेश्वर पाठक के साथ TV पर देखा तो लोग उत्साह से झूम उठे।

यूपी के हरदोई के तेरवा गांव निवासी रहे आइएएस अफसर आशीष सिंह जब KBC में नजर आए और लोगों उन्हें सुपर फिल्म स्टार अमिताभ बच्चन केबीसी के शो में देखा तो उनके जानने वाले खुशी से झूम उठे । देश में स्वच्छता की नंबर वन रैकिंग इंदौर नगर निगम है जहां नगर आयुक्त के पद पर आशीष सिंह तैनात हैं।

केबीसी के शो में वह इंदौर स्वच्छता में देश का नंबर वन कैसे बना के संबंध में जानकारी दिए। केबीसी के शो में भले ही इंदौर की सफाई का डंका बजा बज रहा हो KBC में उनकी भागीदारी और IAS आशीष सिंह की उपलब्धिया हरदोई का भी नाम रोशन कर रही है। एमपी के इंदौर नगर निगम के आयुक्त आशीष सिंह KBC के 150 वी गांधी जयंती पर विशेष एपिसोड कर्मवीर में सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक बिंदेश्वरी पाठक के लिए सहयोगी के रूप में प्रश्नों का जवाब देने में मदद के लिए उनके साथ हाटसीट पर नजर आए। आशीष सिंह आसान से सवाल का जवाब देने में भी अटक जाते हैं। गांधी व लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर गांधी के आदर्शों को मानने वाले डॉ. बिंदेश्वर पाठक और देश में इंदौर को सबसे ज्यादा स्वच्छ शहर बनाने का तमगा दिलाने वाले नगर निगम कमिश्नर आशीष सिंह हॉट सीट पर बैठे। इस दौरान शो के होस्ट अमिताभ बच्चन ने आशीष सिंह से एक सरल सवाल किया, इसके जवाब में उन्हें लाइफ लाइन का सहारा लेना पड़ा।

सवाल था कि उपन्यास चन्द्रकांता को किस भाषा में लिखा गया था? इसका सही जवाब है हिंदी। इस जवाब के लिए आशीष ने एक्सपर्ट का सहारा लिया। इसके बाद उन्होंने इसका सही जवाब दिया। शो में उन्होंने साढ़े 12 लाख रुपये की राशि भी जीती।