स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उन्नाव रेप मामले को लेकर इस भाजपा विधायक ने दिया बड़ा बयान, कहा- कुलदीप भाई तो...

Ruchi Sharma

Publish: Aug 03, 2019 13:09 PM | Updated: Aug 03, 2019 17:47 PM

Hardoi

-BJP MLA आशीष सिंह आशु Kuldeep Sengar के समर्थन में उतर आए
-कहा- मुश्किल वक्त से गुजर रहे हैं कुलदीप भाई...

हरदोई. जिले के भाजपा विधायक का बयान उस समय चर्चा में आ गया जब वे विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Sengar) के समर्थन में उतर आए। हुआ कुछ यूं कि हरदोई (Hardoi MLA) से भाजपा विधायक आशीष सिंह आशु (MLA Ashish Singh) एक कार्यक्रम में पहुंचे जहां उन्होंने कुलदीप सिंह सेंगर के पक्ष में आते हुए कहा कि भाई कुलदीप सिंह सेंगर मुश्किल वक़्त से गुज़र रहे हैं। उनकी शुभकामनाएं कुलदीप सिंह सेंगर के साथ हैं अौर आगे उम्मीद करते हैं कि जल्द ही वो इस मुश्किल घड़ी से बाहर निकल जाए। उनके इस बयान के बाद वे चर्चा में आ गए। विपक्ष पार्टी उनके इस बयान पर पलटवार करने लगे।

यह भी पढ़ें- उन्नाव रेप केस मामले को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, झूठी थी ट्रक के नंबर छिपाने की बात, इस शख्स ने बताई पूरी कहानी, पलटा पूरा मामला

बता दें कि कुछ दिन पहले ही उन्नाव रेप (Unnao Rape) के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Sengar) को BJP ने पार्टी से निकाल था। यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) ने इस खबर की पुष्टि करते हुए कहा था कि केंद्रीय नेतृत्व ने विधायक कुलदीप सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। जानकारी हो कि कुलदीप सेंगर को पार्टी ने पहले ही निलंबित कर दिया था।

यह भी पढ़ें- कुलदीप सिंह सेंगर को भाजपा पार्टी से निकालने के बाद, प्रदेश सरकार का एक और बड़ा फैसला, ये सभी चीज भी हुई रद्द, बड़ा झटका

वहीं इस मामले में आज उन्नाव जिला प्रशासन (Unnao District Administration) ने विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के तीनों असलहों को रद्द कर दिया है। सीतापुर जेल में बंद सेंगर के नाम पर एक बंदूक, एक राइफल और रिवाल्वर शामिल हैं। बता दें कि यह मुकदमा सीबीआई (CBI) कोर्ट में चल रहा है। सीबीआई ने पीड़िता के सड़क दुर्घटना मामले में कुलदीप सिंह सेंगर और 9 अन्य के खिलाफ हत्या के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया। इसके बाद पीड़ित पक्ष ने विधायक के शस्त्र लाइसेंस रद्द करने की मांग की थी।