स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Triple Talaq: बहनों ने इस मांग को नहीं किया पूरा तो दोनों के पतियों ने कहा, तलाक...तलाक...तलाक, देखें वीडियो

Rahul Chauhan

Publish: Sep 11, 2019 16:34 PM | Updated: Sep 11, 2019 16:38 PM

Hapur

Highlights:

-सब कुछ सही चलता रहा, लेकिन एक दिन दोनों भाईयों ने एक साथ तील तलाक (Triple Talaq) दे दिया

-जिसके बाद मानों दोनों बहनों की जिंदगी तबाह हो गई

-आए दिन दोनों बहनों को प्रताड़ना का सामना करना पड़ा

हापुड़। दो बहनों का निकाह एक साथ दो भाईयों के संग परिवार वालों ने पूरे रीति-रिवाजों से करा दिया। सब कुछ सही चलता रहा, लेकिन एक दिन दोनों भाईयों ने एक साथ तील तलाक (Triple Talaq) दे दिया। जिसके बाद मानों दोनों बहनों की जिंदगी तबाह हो गई। दोनों की बस इतनी सी गलती थी कि इनके परिवार वाले लोभी ससुराल वालों की दहेज की मांग पूरी नहीं कर पाए। जिसके बाद आए दिन दोनों बहनों को प्रताड़ना का सामना करना पड़ा।

यह भी पढ़ें: अखिलेश के इस खास सिपाही ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना, कहा- हो रही खिलाड़ियों की उपेक्षा

दरअसल, कहने को तो केन्द्र सरकार ने मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए तीन तलाक कानून बना दिया है, लेकिन बावजूद इसके ये मामले थमने का नाम नहीं ले रहे। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ का है। जहां रहने वाली दोनों सगी बहनों का निकाह मेरठ के रहने वाले दो सगे भाइयों के साथ हुआ था। दोनों बहनों का आरोप है कि दहेज की मांग पूरी न होने के कारण उन्हें तीन तलाक दे दिया।

बता दें कि मामला धौलाना थाना क्षेत्र का है। जहां की दो युवतियों का निकाह इकरामुद्दीन और उसके भाई सलमान के साथ हुआ था। दोनों बहनों का आरोप है कि शादी के बाद से ही दोनों के पति उनको दहेज को लेकर प्रताड़ित करते थे और मारपीट कर उनको परेशान किया करते थे। दहेज में कार और दो बीघा जमीन का मांग उनके द्वारा की गई थी। जिसको पूरा न करने पर उनके पति उनसे मारपीट करते थे। मामला ज्यादा बढ़ जाने पर दोनों सगी बहने अपने मायके आ गयी। उनका आरोप है कि उनके पति धौलाना पहुंचे और दोनों सगी बहनों को एक साथ तीन तलाक देकर चले गए। जिसके बाद पीड़िताओं ने पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है। वहीं उनका यह भी आरोप है कि धौलाना पुलिस ने तीन तलाक पीड़िताओं को थाने से भगा दिया। जिसके बाद उन्होंने एसपी ऑफिस जाकर न्याय ही गुहार लगाई है।