स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Sushma Swaraj की अस्थियों को गंगा में विसर्जित करते हुए फूट-फूटकर रोने लगी बांसुरी, देखें Video-

lokesh verma

Publish: Aug 08, 2019 13:09 PM | Updated: Aug 08, 2019 13:09 PM

Hapur

खास बातें-

  • सुषमा स्वराज का अस्थि कलश लेकर गढ़मुक्तेश्वर पहुंचे स्वराज कौशल और बांसुरी स्वराज
  • अस्थि विसर्जन के दौरान मंत्री सुरेश खन्ना और सांसद राजेंद्र अग्रवाल भी रहे मौजूद
  • बेटी बांसुरी ने पूरी की अंतिम संस्कार के बाद अस्थि विसर्जन की रस्म

हापुड़. पूर्व विदेश मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज की अस्थियों को आज गढ़मुक्तेश्वर स्थित गंगा घाट पर विसर्जित किया गया। बता दें कि सुषमा स्वराज के परिजन गुरुवार सुबह लोधी श्मशान घाट से अस्थियां जुटाकर गढ़ गंगा पहुंचे। इस दौरान उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री सुरेश खन्ना और सांसद राजेंद्र अग्रवाल भी मौजूद रहे। जहां सभी लोग नाव से बीच गंगा में पहुंचे और सुषमा स्वराज के अस्थि कलश को उनकी बेटी बांसुरी ने गंगा में विसर्जित किया। इस मौके पर स्व. सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल भी मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि मंगलवार देर रात सुषमा स्वराज का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। बुधवार को सुषमा स्वराज का पूरे राजकीय सम्मान और हिंदू रीति-रिवाज के साथ अंतिम संस्कार किया गया था। मान्यताओं के विपरीत उनकी बेटी बांसुरी स्वराज ने अंतिम संस्कार की रस्में पूरी करते हुए दिल्ली स्थित लोधी रोड श्मशान घाट पर उनके पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी। इसके बाद गुरुवार सुबह बांसुरी स्वराज अपने पिता स्वराज कौशल के साथ लोधी रोड श्मशान घाट पहुंची और सुषमा स्वराज की अस्थियों को एकत्रित कर कलश में भरा और गढ़मुक्तेश्वर के लिए रवाना हो गए।

यह भी पढ़ें- sushma swaraj को श्रद्धांजलि देने गईं जया प्रदा का हुआ यह हाल- देखें फोटो

sushma swaraj  <a href=bone immersed in ganga at garh mukteshwar" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/08/08/sushma-swaraj-bone-immersed-in-garh-mukteshwar2_4946280-m.jpg">

गुरुवार सुबह स्वराज कौशल बेटी बांसुरी के साथ हापुड़ स्थित तीर्थनगरी गढ़मुक्तेश्वर पहुंचे। उनके साथ योगी सरकार में मंत्री सुरेश खन्ना और सांसद राजेंद्र अग्रवाल के अलावा कई भाजपा नेता भी पहुंचे। इसके बाद नाव में सवार होकर सभी लोग बीच गंगा में पहुंचे। जहां सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी ने नम आंखों से मां की अस्थियों को गंगा में प्रवाहित किया। बता दें कि बांसुरी सुषमा स्वराज की इकलौती संतान हैं। इसलिए बांसुरी ने ही उनके अंतिम संस्कार के सभी रस्मों को पूरा किया है।

यह भी पढ़ें- भावुक मुलायम सिंह यादव ने सुषमा स्वराज को दी श्रद्धांजलि, फूंट-फूंट कर रो पड़ा यह दिग्गज सपा नेता, दिया बहुत बड़ा बयान...