स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुलिस कस्टडी में युवक की मौत मामले में अब पुलिस के इस बड़े ऑफिसर पर गिरी 'गाज'

Nitin Sharma

Publish: Oct 21, 2019 17:24 PM | Updated: Oct 21, 2019 17:24 PM

Hapur

Highlights

थाने में कस्टडी मौत मामले में एफआईआर में बनाया गया है आरोपी
सीओ समेत चार पुलिसकर्मियों पर परिवार ने लगाया था हत्या का आरोप
सीओ का तबादला कर यहां मिली तैनाती

हापुड़। जिले के पिलखुवा थाने में पुलिस कस्टडी में हुई प्रदीप तोमर की मौत मामले में अब शासन ने हत्या में नामजद गढ़मुक्तेश्वर सीओ संतोष मिश्रा का तबादला कर दिया। सीओ संतोष मिश्रा को को-ऑपरेटिव सेल में तैनाती दी गई है। तबादले का आदेश आते ही एसपी ने सीओ को तत्काल प्रभाव से कार्यमुक्त कर दिया। वही सूत्रों की माने तो सीओ का तबादला एक हफ्ते पूर्व में पुलिस कस्टडी में प्रदीप की मौत के चलते किया गया है। इतना ही नहीं इस मामले में अन्य तीन पुलिसकर्मी इंस्पेक्टर, दरोगा और सिपाही को निलंबित कर दिया गया था। साथ ही परिवार की ओर से सीओ और थाना प्रभारी समेत चार लोगों को हत्या का आरोप लगाया था। चारों के खिलाफ हत्या का मुकदमा भी दर्ज कराया गया है। जिसकी जांच की जा रही है।

नगर पालिका परिषद की बोर्ड बैठक में हुआ हंगामा तो अध्यक्ष ने उठाया ऐसा कदम, अब की जा रही यह मांग- देखें वीडियो

बता दें कि 3 दिन पहले पिलखुआ पुलिस ने लाखन गांव के प्रदीप नाम के युवक को महिला की हत्या के मामले में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। आरोप है कि कोतवाली में उसके साथ मारपीट की गई। परिजनों ने आरोप लगाए है कि थर्ड डिग्री देने की वजह से उसकी मौत हुई है। तभी से परिजन न्याय की गुहार लगा रहे थे। वहीं, पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने भी इस मामले को उठाया था। इस मामले में एसपी ने पिलखुआ इंस्पेक्टर समेत तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया था। इसके साथ ही मामले में पुलिसकर्मियों के खिलाफ गुरुवार को बड़ी कार्रवाई की गई। पुलिस हिरासत में हुई मौत को लेकर सीओ समेत 4 पुलिसकर्मियों पर हत्या का मुकदमाको दर्ज किया गया है।