स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सावधान! दिवाली पर सेहत बिगाड़ सकती है इस मावे से बनी मिठाई, देखें वीडियो

lokesh verma

Publish: Oct 23, 2019 11:58 AM | Updated: Oct 23, 2019 12:00 PM

Hapur

Highlights
- हापुड़ ग्रामीण क्षेत्रों में तैयार किया जा रहा नकली मावा
- खाद्य विभाग की छापेमारी में हुआ खुलासा
- सैकड़ों कुंतल मिलावटी मावे की खेप पकड़ी

हापुड़. दीपावली का पर्व जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे ही मिठाई में मिलावटखोरी के मामले सामने आने लगे हैं। कहने के लिए तो फूड विभाग सैंपल लेकर कार्यवाही कर रहा है। जगह-जगह छापेमारी की जा रही है, लेकिन इसके बावजूद हापुड़ में बड़ी मात्रा में खोवा के रूप में धीमा जहर तैयार किया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो हापुड़ में मिलावटी मावे से गुलाब जामुन आैर रसगुल्लों के साथ अन्य मिठाई तैयार की जा रही हैं। नकली मावा बनाने की भट्टियां ग्रामीण क्षेत्रों में धधक रही हैं।

यह भी पढ़ें- महिला पहुंची पुलिस के पास और बोली की पति नहीं बताता मोबाइल का पासवर्ड, मुझे है शक

मिठाई के नाम पर हर बार त्योहारों पर लोगों की सेहत से खिलवाड़ की जाती है, लेकिन खाद्य विभाग छापेमारी के साथ सैंपल भरकर इतिश्री कर लेता है। इस बार दिवाली पर भी यही देखने को मिल रहा है। बता दें कि धौलाना क्षेत्र के गांव लालपुर सोलाना गांव में धड़ल्ले से नकली मावा तैयार किया जा रहा है। यहां लताफत व इरफान के मकान में मिलावटी मावा इस कदर तैयार किया जा रहा है। आप तस्वीरों में देख सकते हैं मिलावटी मावा तैयार करके जमीन पर डाला दिया गया है।

जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची खाद्य विभाग की टीम ने छापेमारी करते हुए मावे के सैंपल लेकर लैब भेज दिए हैं। इसी क्रम में सिम्भावली क्षेत्र में गोल स्वीट पर बूंदी के रंगीन लड्डू बन रहे थे, जिन्हें नष्ट किया गया है। साथ ही सैंपल लेकर लैब भेजा गया है। खाद्य विभाग की लगातार कार्रवाई के बावजूद मिलावटखोर लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ करने से बाज नहीं आ रहे हैं। इस संबंध में हापुड़ सदर एसडीएम सत्य प्रकाश का कहना है कि जिलाधिकारी के आदेश पर छापेमारी की जा रही है। मिलावटी मिठाई को नष्ट किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें- 3 मंजिल इमारत में लगी आग, खिड़की से झांक कर चिल्लाते रहे लोग बचाओ-बचाओ