स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घग्घर में पानी की आवक बढ़ी, 18 को गुल्ला चिक्का हैड पर 13000 क्यूसेक पानी की आवक

Purushotam Jha

Publish: Aug 18, 2019 11:38 AM | Updated: Aug 18, 2019 11:38 AM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. हिमाचल, पंजाब और हरियाणा में 18 अगस्त को भारी बरसात होने की चेतावनी दी गई है। यह तीनों ही क्षेत्र घग्घर के जल ग्रहण क्षेत्र माने जाते हैं। इस तरह घग्घर नदी में आने वाले दिनों में पानी की आवक तेज हो सकती है।

 

घग्घर में पानी की आवक बढ़ी, 18 को गुल्ला चिक्का हैड पर 13000 क्यूसेक पानी की आवक

हनुमानगढ़. हिमाचल, पंजाब और हरियाणा में 18 अगस्त को भारी बरसात होने की चेतावनी दी गई है। यह तीनों ही क्षेत्र घग्घर के जल ग्रहण क्षेत्र माने जाते हैं। इस तरह घग्घर नदी में आने वाले दिनों में पानी की आवक तेज हो सकती है। हिमाचल के आसपास बारिश शुरू होने का असर नजर भी आने लगा है। १७ अगस्त को घग्घर के गुल्ला चिक्का हैड पर १०७८० क्यूसेक पानी की आवक हुई। जबकि खनौरी में २१५० व चांदपुर में १३०० क्यूसेक पानी चल रहा था। बरसात का दौर जारी रहने पर आने वाले दिनों में पानी राजस्थान में प्रवेश कर सकता है। इसे लेकर घग्घर बाढ़ नियंत्रण दल के स्थानीय अधिकारियों को सतर्क कर दिया गया है।
घग्घर बाढ़ नियंत्रण हनुमानगढ़ कार्यालय के प्रभारी व एक्सईएन सुभाषचंद्र बेदी ने बताया कि पंजाब व हरियाणा में तेज बारिश की चेतावनी दी गई है। इसे देखते हुए राजस्थान क्षेत्र में घग्घर क्षेत्र की निगरानी बढ़ा दी गई है। उन्होंने बताया कि अभी राजस्थान क्षेत्र में चिंता की कोई बात नहीं है। लेकिन हिमाचल,पंजाब और हरियाणा में तेज बरसात होने पर इसका असर राजस्थान में जरूर नजर आएगा। गौरतलब है कि इस मानसून सीजन में करीब एक माह पहले ही इस बार घग्घर में पानी की आवक शुरू हो गई थी। अब बरसात फिर से होने के कारण दूसरी बार घग्घर में पानी चलने के आसार बन गए हैं। एक पखवाड़े से गुल्ला चिक्का पर नामात्र का पानी बह रहा था। लेकिन बरसात के बाद अब पानी की मात्रा बढ़ गई है।

भाखड़ा में निकासी बढ़ी
हनुमानगढ़. हिमाचल प्रदेश में भारी बरसात की चेतावनी के बीच भाखड़ा बांध के अधिकतम भराव क्षमता के नजदीक पहुंचने पर बीबीएमबी ने इसे खाली करने का मन बना लिया है। दो दिन पहले तक इस बांध से ३० से ३५ हजार क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही थी, जबकि निकासी की मात्रा अब ५०००० क्यूसेक से अधिक कर दी गई है। भारी बरसात की चेतावनी के बीच पंजाब, हरियाणा और हिमाचल में हाई अलर्ट कर दिया गया है।

बीबीएमबी की बोर्ड बैठक संपन्न
हनुमानगढ़. भाखड़ा ब्यास मैनेजमेंट बोर्ड (बीबीएमबी) की बोर्ड बैठक शनिवार को चंडीगढ़ में हुई। इसमें बीबीएमबी बोर्ड से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श किया गया। राजस्थान की तरफ से प्रतिनिधित्व जल संसाधन उत्तर संभाग हनुमानगढ़ के मुख्य अभियंता विनोद मित्तल तथा रेग्यूलेशन विंग के एसई जेएस कलसी ने किया। एसई कलसी ने बताया कि बोर्ड में नियुक्ति देने सहित अन्य मुद्दों पर विचार किया गया। इसमें तकनीकी मुद्दे शामिल नहीं थे। उन्होंने बताया कि २० अगस्त को बीबीएमबी तकनीकी कमेटी की बैठक बुलाई गई है। इसमें बांधों की स्थिति के आधार पर आगे का शेयर निर्धारित किया जाएगा।