स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नहरी चुनाव में वोटर लिस्ट का फेर

Purushotam Jha

Publish: Sep 08, 2019 11:24 AM | Updated: Sep 08, 2019 11:24 AM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. भाखड़ा के ४१ बीके में जल उपयोक्ता संगम के चुनाव होने हैं। मगर अभी तक अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन नहीं होने के कारण चुनाव प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ पा रही है। हालांकि विभाग स्तर पर मतपेटियां आदि तैयार करवा ली गई है। मगर चुनाव के लिए अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन करवाना जरूरी है।

 


-भाखड़ा के ४१ बीके में चुनाव का मामला
-अवकाश के दिन भी मतदाता सूची को लेकर माथापच्ची करती रही विभागीय टीम
.....फोटो........
हनुमानगढ़. भाखड़ा के ४१ बीके में जल उपयोक्ता संगम के चुनाव होने हैं। मगर अभी तक अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन नहीं होने के कारण चुनाव प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ पा रही है। हालांकि विभाग स्तर पर मतपेटियां आदि तैयार करवा ली गई है। मगर चुनाव के लिए अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन करवाना जरूरी है। शनिवार को अवकाश के दिन भी जल संसाधन विभाग की टीम हालांकि अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन करने के प्रयास में जुटी रही। अब रविवार तक यह कार्य पूर्ण हो जाता है तभी प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत चुनाव हो सकेंगे। भाखड़ा खंड द्वितीय कार्यालय के एक्सईएन बीरबल सिंह ने बताया कि चुनाव करवाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके तहत अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन करवा रहे हैं। जैसे ही यह काम पूरा हो जाएगा, चुनाव की आगामी प्रक्रिया शुरू कर देंगे। इस बीच चुनाव कैसे करवाए जाएंगे, किस तरह के लोग चुनाव लडऩे के पात्र होंगे आदि के बारे में जानने के लिए विभागीय कार्यालय में किसान पहुंचने लगे हैं। गत चुनाव में एक जगह चुनाव कार्मिक की हत्या करने के मामले से सबक लेते हुए इस बार विभागीय अधिकारी सभी मतदात केंद्रों पर पुलिस जाब्ता लगाने की बात भी कह रहे हैं। इस चुनाव में करीब ८० हजार किसानों के शामिल होने की संभावना है। नहरी चुनाव में पहले चरण का मतदान १५ सितम्बर को प्रस्तावित है। इसके लिए १४ सितम्बर को नामांकन होंगे। चुनाव को लेकर बूथ गठन की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। जल उपयोक्ता संगम अध्यक्षों के चुनाव होने के बाद नहरों के संचालन की जिम्मेदारी नहर अध्यक्षों को सौंप दी जाएगी। वर्तमान में विभागीय अधिकारी इन नहरों का संचालन कर रहे हैं। नहर निर्माण व संचालन में किसानों की सहभागिता बढ़ाने के मकसद से नहरी चुनाव करवाए जा रहे हैं। अध्यक्षों के निर्वाचन के बाद इनका कार्यकाल पांच वर्ष तक रखा जाएगा। भाखड़ा खंड द्वितीय कार्यालय में चुनाव प्रकोष्ठ प्रभारी मनीराम ने बताया कि जल उपयोक्ता संगम अध्यक्षों के नामांकन के लिए पांच सौ रुपए नामांकन शुल्क निर्धारित किया गया है। इस बार के चुनाव में खातेदारी पुरुष किसान के नाम होने पर उसकी पत्नी का नाम भी वोटर लिस्ट में जोड़ा जा रहा है। इससे महिलाओं की सहभागिता भी काफी बढऩे की संभावना है।