स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

‘जिले का चुनावी इतिहास अच्छा, इसलिए पोलिंग पार्टी को घबराने की जरूरत नहीं’

Purushotam Jha

Publish: Nov 10, 2019 18:49 PM | Updated: Nov 10, 2019 18:49 PM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. नगर परिषद चुनाव को लेकर मतदान कार्मिकों का प्रथम प्रशिक्षण रविवार को पोलिटेक्निक कॉलेज परिसर में हुआ। जिला निर्वाचन अधिकारी जाकिर हुसैन ने कहा कि पुलिस और प्रशासन के अधिकारी आपस में अच्छा समन्वय रखते हुए जिले में नगर परिषद चुनाव निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न करवाएं। प्रशिक्षण में कोई भी बात समझ में नहीं आए तो दुबारा पूछ लें। फील्ड में भी अगर कुछ गलतियां हो जाएं तो घबराने की जरूरत नहीं है।

 


-मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षण में बोले जिला निर्वाचन अधिकारी जाकिर हुसैन
-जंक्शन में पोलिटेक्निक कॉलेज परिसर में हुआ मतदान दलों का प्रथम प्रशिक्षण

हनुमानगढ़. नगर परिषद चुनाव को लेकर मतदान कार्मिकों का प्रथम प्रशिक्षण रविवार को पोलिटेक्निक कॉलेज परिसर में हुआ। जिला निर्वाचन अधिकारी जाकिर हुसैन ने कहा कि पुलिस और प्रशासन के अधिकारी आपस में अच्छा समन्वय रखते हुए जिले में नगर परिषद चुनाव निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न करवाएं। प्रशिक्षण में कोई भी बात समझ में नहीं आए तो दुबारा पूछ लें। फील्ड में भी अगर कुछ गलतियां हो जाएं तो घबराने की जरूरत नहीं है। इसके बारे में तुरंत कंट्रोल रूम में और उच्चाधिकारियों को सूचित करें। उन्होने कहा कि कई बार खबरें आती हैं कि ईवीएम खराब होने के चलते अभी वोटिंग शुरू ही नहीं हुई है। ऐसी स्थिति में तुरंत उच्चाधिकारियों से संपर्क करें। चुनाव में अनुभवी पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी लगाए गए हैं लिहाजा चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न करवाएं। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि हनुमानगढ़ के चुनाव को लेकर इतिहास बहुत बढिय़ा रहा है। यहां की जनता पुलिस और प्रशासन को खूब सपोर्ट करती है। इसलिए बिल्कुल भी घबराने की जरूरत नहीं है। जिला पुलिस अधीक्षक राशि डोगरा डूडी ने कहा कि पुलिस में जिन अधिकारियों और पुलिस कार्मिकों को लगाया गया है वे काफी अनुभवी हैं और नगर परिषद चुनाव बिल्कुल बिना भय के शांतिपूर्ण और निष्पक्ष रूप से संपन्न करवाए जाएंगे। उन्होने कहा कि नगर परिषद चुनावों में जीत का अंतर कम होता है लिहाजा थोड़ी सतर्कता बरतने की जरूरत होती है। उन्होने कहा कि पुलिस कर्मी मतदान केन्द्र के अंदर ना जाए और महिला पुलिस कर्मी जिनकी ड्यूटी लगी है वो अपने छोटे बच्चे को साथ लेकर ना जाए। चुनाव में सिर्फ ड्यूटी पर ध्यान दें ताकि कोई गड़बड़ी ना हो सके। राजस्व अपील अधिकारी और प्रशिक्षण प्रकोष्ठ प्रभारी आशाराम डूडी ने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि कई बार किताबी ज्ञान काम नहीं आता। उन्होने कहा कि हो सकता है कि आपने किताबों में चुनाव संपन्न करवाने को लेकर सब कुछ नियम कायदे पढ़ लिए हों लेकिन प्रैक्टिकल ज्ञान का होना उससे भी ज्यादा जरूरी है। ताकि फील्ड में किसी भी परिस्थिति को संभाला जा सके। उन्होने कहा कि चुनाव ड्यूटी में लगा कोई भी कार्मिक अपना मोरल हाई रखें किसी से घबराने,डरने की जरूरत नहीं है। पूरे कॉन्फिडेंस के साथ अपनी डयूटी करें। उन्होने अपने अनुभव साझा करते हुए कई प्रकार की स्थितियों से निबटने के तरीके बताए। एएसपी जस्साराम बोस ने पुलिस की तैनाती के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बिना भय के चुनाव संपन्न करवाने के निर्देश दिए। एसडीएम कपिल यादव ने कहा कि विधानसभा और नगर परिषद चुनाव की वोटर लिस्ट अलग अलग है लिहाजा हो सकता है फील्ड में इसको लेकर कुछ परेशानी आए लेकिन सब परिस्थितियों को शांतिपूर्ण तरीके से निपटाएं। उप जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक असीजा,सीईओ जिला परिषद परशुराम धानका, कार्मिक प्रकोष्ठ प्रभारी और जिला रसद अधिकारी अरविंद जाखड़, रिटर्निंग अधिकारी कपिल यादव, पीआरओ सुरेश बिश्नोई, चुनाव शाखा प्रभारी हंसराज समेत अन्य उपस्थित थे।

शत-प्रतिशत उपस्थिति
प्रशिक्षण प्रकोष्ठ प्रभारी आशाराम डूडी ने बताया कि रविवार को 150 पीठासीन अधिकारी(पीआरओ) , 150-150 ही प्रथम मतदान अधिकारी (पीओ-1) और द्वितीय मतदान अधिकारी (पीओ 2) का प्रशिक्षण रखा गया था। जिसमें उपस्थिति शत-प्रतिशत रही। इसके अलावा 40 जोनल मजिस्ट्रेट और 18 एएसआई को भी प्रशिक्षित किया गया। नगर परिषद को 18 जोन में बांटा गया है लिहाजा 40 में से 18 जोनल मजिस्ट्रेट को फील्ड में कल से भेजा जाएगा बाकी को रिजर्व में रखा जाएगा। डूडी ने बताया कि मतदान कार्मिकों का द्वितीय प्रशिक्षण 15 नवंबर को सुबह साढ़े नौ बजे रिपोर्टिंग टाइम रखा गया है। जिसमें 150 तृतीय मतदान अधिकारी ( पीओ-3) भी हिस्सा लेंगे।

वार्ड ५४ में सर्वाधिक प्रत्याशी
जिला मुख्यालय पर रविवार को जिन मास्टर ट्रेनर ने प्रशिक्षण दिया उनमें रमेश धानक, सीताराम, पुरुषोत्तम शर्मा आदि शामिल थे। उप जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक असीजा ने बताया कि सोमवार को ईवीएम शिफ्टिंग का कार्य होगा। ईवीएम को जिला कलक्ट्रेट के ईवीएम स्टोर रूम से पोलिटेक्निक कॉलेज शिफ्ट किया जाएगा। जहां उन्हें पूरी तरह से तैयार कर स्ट्रांग रूम में सील किया जाएगा। रिटर्निंग अधिकारी कपिल यादव के निर्देशन में ये कार्य होगा। उन्होने बताया कि इस बार मल्टीपोस्ट सिंगल वोट मशीनें लगाई गई हैं। इसमें अधिकतम 15 प्रत्याशी आ सकते हैं। इस बार नगर परिषद में वार्ड 54 से अधिकतम 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में है। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि वोट का रिकॉर्ड सीयू के अंदर एसडीएमएम डिवाइस में रहेगा। उन्होने बताया कि नगर परिषद चुनाव को लेकर जिला मुख्यालय पर कुल 115 बूथ बनाए गए हैं। और इन पर 115 मशीनें एक्टिव और 20 फीसदी ईवीएम को रिजर्व रखा गया है।

[MORE_ADVERTISE1]