स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नगर परिषद ने माना: लोहिया कॉलोनी में पंप हाउस बनने के बाद मिलेगी जलभराव से मुक्ति

Anurag Thareja

Publish: Aug 13, 2019 11:16 AM | Updated: Aug 13, 2019 11:16 AM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

 

पत्रिका ने चेताया था नगर परिषद को, लोहिया कॉलोनी में कई खामियों के कारण बारिश में वार्ड हो रहे जलमग्न

 

नगर परिषद ने माना: लोहिया कॉलोनी में पंप हाउस बनने के बाद मिलेगी जलभराव से मुक्ति
- पत्रिका ने चेताया था नगर परिषद को, लोहिया कॉलोनी में कई खामियों के कारण बारिश में वार्ड हो रहे जलमग्न

हनुमानगढ़. टाउन क्षेत्र में जलभराव की समस्या से निपटने के लिए नगर परिषद अब 1.81 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इस राशि से नगर परिषद टाउन की लोहिया कॉलोनी में पंप हाउस बनाने जा रही है। नगर परिषद के अधिकारियों ने माना कि लोहिया कॉलोनी में करीब दो करोड़ के पंप हाउस का निर्माण होने के बाद ही टाउन के अधिकांश वार्डों में बारिश के दौरान जलभराव से मुक्ति मिलेगी। इस पंप हाउस के निर्माण के लिए नगर परिषद ने डीएलबी से स्वीकृति मांगी है। नप को उम्मीद है कि डीएलबी से बुधवार को इसकी स्वीकृति मिलेगी। इस राशि से ढाई किलोमीटर 450 एमएम की पाइप लाइन बिछाई जाएगी। लोहिया कॉलोनी स्थित एक कमरे का निर्माण कर 55 एचपी के दो पंप लगाए जाएंगे। इन पंप के जरिए पानी घग्घर नहर तक पहुंचाया जाएगा। गौरतलब है कि 18 जुलाई को पत्रिका ने खबर प्रकाशित की थी कि टाउन में जलभराव की समस्या लोहिया कॉलोनी में जाम पाइप लाइन की वजह से है। पत्रिका ने चेताया था कि यहां से लेकर घग्घर पुल तक पानी की निकासी नहीं होने के कारण वार्डों में बरसात के दौरान जलभराव हो रहा है। इस जगह पर समस्या का समाधान होने से ही जलभराव से निपटा जा सकता है। इसके चलते नगर परिषद के अधिकारियों ने 1.81 करोड़ की राशि का पंप हाुस लगाने जा रही है।

लोहिया कॉलोनी में डाला था डेरा
पत्रिका की खबर प्रकाशित होने के पश्चात नगर परिषद के अधिकारी दिनभर लोहिया कॉलोनी में बैठे रहे है और जेटिंग मशीन की मदद से पाइप लाइनों की सफाई करवाई गई थी। इस दौरान नप के अधिकारियों ने आपस में मंथन किया था कि यहां एक मात्र विकल्प पंप हाउस का निर्माण ही है।

संपवैल से भी नहीं मिली मुक्ति
नगरपरिषद ने दो वर्ष पूर्व टाउन की लोहिया कॉलोनी व बिहारी बस्ती में तीन करोड़ चालीस लाख की लागत से संपवैल का निर्माण किया था। बिहारी बस्ती में तो संपवैल का लाभ मिल रहा है लेकिन लोहिया कॉलोनी में स्थित संपवैल होने के बावजूद बरसात के दौरान पानी निकासी की समस्या रही।

तीन-चार दिन में मिलेगी स्वीकृति
पंप हाउस के निर्माण के लिए टैक्निकल स्वीकृति लेने के लिए फाइल डीएलबी को भेजी है। आगामी तीन से चार दिन में इसकी स्वीकृति मिलने की उम्मीद है। इसके पश्चात निविदा की कार्रवाई होगी।
शैलेन्द्र गोदारा, आयुक्त, नगर परिषद
******************************