स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

‘सरकारी खर्चे पर मिला सेवा का मौका, इससे मत चूकें अफसर’

Purushotam Jha

Publish: Nov 28, 2019 11:48 AM | Updated: Nov 28, 2019 11:48 AM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. जरुरतमंद और गरीब लोगों का इलाज करना बहुत बड़ा काम है। सरकारी खर्चे पर ईश्वर ने सेवा करने का मौका दिया है। आमजन को गुणवत्ता पूर्ण इलाज देने से आप लोग मत चूको। यह बात कलक्टर जाकिर हुसैन ने बुधवार को जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में कही।

 

‘सरकारी खर्चे पर मिला सेवा का मौका, इससे मत चूकें अफसर’
जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में बोले जिला कलक्टर जाकिर हुसैन
हनुमानगढ़. जरुरतमंद और गरीब लोगों का इलाज करना बहुत बड़ा काम है। सरकारी खर्चे पर ईश्वर ने सेवा करने का मौका दिया है। आमजन को गुणवत्ता पूर्ण इलाज देने से आप लोग मत चूको। यह बात कलक्टर जाकिर हुसैन ने बुधवार को जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में कही। उन्होंने चिकित्सा महकमे के अफसरों से कहा कि आप में से बहुत से डॉक्टर ऐसे कार्य कर रहे होंगे जो रैंकिंग में नहीं आता लेकिन इससे निराश होने की जरूरत नहीं है। उन्होने जिला अस्पताल के पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा की तरफ ईशारा करते हुए कहा कि कम स्टॉफ के बावजूद जिला अस्पताल ने क्वालिटी इंश्योरेंस के इनाम जीते हैं। इससे काफी कुछ सीखा जा सकता है। मेडिकल कॉलेज की हाल ही में हुई मंजूरी को लेकर उन्होने कहा कि जमीन अलॉटमेंट को लेकर एक भी दिन ऐसा नहीं गया जब हनुमानगढ़ विधायक चौधरी विनोद कुमार और पीएमओ का मेरे पास फोन ना आया हो। जल्द से जल्द जमीन मेडिकल कॉलेज के नाम की गई। जिसकी सौगात हमें मेडिकल कॉलेज के रूप में मिली है। डॉक्टर्स से उन्होने कहा कि कहीं भी कोई दिक्कत आए तो सीधे सीएमएचओ और पीएमओ से बात कर मामला सुलझाते हुए आमजन को अच्छी क्वालिटी की सेवा दें। साथ ही कहा कि डॉक्टर्स हैड क्वाटर पर ही रूकें और जिनकी परफोर्मेंस ठीक नहीं है उन्हें नोटिस दिया जाए। जिला कलक्टर ने बैठक में मौसमी बिमारियों समेत पीएसची, सीएचसी की परफोर्मेंस को लेकर चर्चा करते हुए डॉक्टर्स को निर्देशित किया। सीईओ जिला परिषद परशुराम धानका ने कहा कि पीएचसी, सीएचसी में तैनात डॉक्टर्स उसे खुद का संस्थान समझें तभी हम उनमें साफ सफाई और आमजन को अच्छी क्वालिटी के साथ सेवा दे पाएंगे। पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा ने कहा कि जब तक ओनरशिप का भाव नहीं आएगा तब तक हम अच्छी क्वालिटी के साथ सेवा नहीं दे सकते। संस्थान को खुद का समझते हुए जिम्मेदारी के साथ कार्य किया जाए। जिला अस्पताल में भी कम स्टॉफ है लेकिन बेस्ट आउटपुट देने की कोशिश रहती है। उन्होने कहा कि डॉक्टर्स और नर्सिंग स्टॉफ को जब ट्रेनिंग की जरूरत है, जिला अस्पताल उसके लिए सदैव तैयार है। बैठक में सीएमएचओ डॉ. अरूण चमडिय़ा ने पीएचसी और सीएचसी में होने वाली डिलीवरी, मुफ्त दवा, इलाज इत्यादि को लकर विस्तृत रूप से चर्चा करते हुए जहां डिलीवरी इत्यादि जीरो है वहां की स्थिति सुधारने के निर्देश दिए। पीआरओ सुरेश बिश्नोई, आरसीएचओ डॉ. विक्रम सिंह, डॉ. रवि शंकर शर्मा, एसीएमएचओ डॉ. पवन कुमार छिंपा, बीसीएमओ हनुमानगढ़ डा.ॅ ज्योति धींगड़ा समेत सभी बीसीएमओ ,पीएचसी, सीएचसी इंचार्ज डॉक्टर बैठक में उपस्थित थे।

[MORE_ADVERTISE1]