स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नहरबंदी की तैयारी पूरी, 16 से लेंगे बंदी

Purushotam Jha

Publish: Nov 06, 2019 11:46 AM | Updated: Nov 06, 2019 11:46 AM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. सरहिंद फीडर में मरम्मत कार्य शुरू करने को लेकर १६ नवम्बर से २० दिसम्बर तक नहरबंदी रहेगी। इस अवधि में पंजाब भाग में पूरी तरह बंदी रहेगी। बंदी के दौरान फीडर की लाइनिंग तथा लाइनिंग के नीचे बेड लेवल में फिल्टर मीडिया लगाने सहित अन्य कार्य करवाए जाएंगे। इसे लेकर पंजाब सरकार ने टेंडर जारी कर दिए हैं।

 


-१६ नवम्बर से २० दिसम्बर होने वाली बंदी में सुधारेंगे सरहिंद फीडर की सूरत
-११ को होने वाली केेंद्रीय जल आयोग की बैठक में इंदिरागांधी नहर में बंदी की स्थिति होगी साफ
........फोटो......
हनुमानगढ़. सरहिंद फीडर में मरम्मत कार्य शुरू करने को लेकर १६ नवम्बर से २० दिसम्बर तक नहरबंदी रहेगी। इस अवधि में पंजाब भाग में पूरी तरह बंदी रहेगी। बंदी के दौरान फीडर की लाइनिंग तथा लाइनिंग के नीचे बेड लेवल में फिल्टर मीडिया लगाने सहित अन्य कार्य करवाए जाएंगे। इसे लेकर पंजाब सरकार ने टेंडर जारी कर दिए हैं। मरम्मत कार्य को नौ पैकेज में पूरा किया जाएगा। इस कार्य पर करीब ८० करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। मरम्मत प्रोजेक्ट के तहत सरहिंद फीडर की टेल से अप स्ट्रीम तक करीब बीस किलोमीटर क्षेत्र में लाइनिंग की जाएगी। इसमें आरडी ३८६ से ४४७.०९ आरडी तक के क्षेत्र को शामिल किया गया है। गौरतलब है कि सरहिंद फीडर और राजस्थान फीडर की मरम्मत को लेकर करीब १३०० करोड़ का बजट स्वीकृत है।
लेकिन नहरों की सूरत सुधारने के प्रति पहले पंजाब गंभीरता नहीं दिखा रहा था। लेकिन जिस तरह से अब पंजाब सरकार नहरों के मरम्मत प्रोजेक्ट में दिचलस्पी दिखा रहा है, उससे लगता है कि भविष्य में जरूर नहरों का स्वरूप बदलेगा। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के अनुसार सरहिंद फीडर से राजस्थान क्षेत्र की भाखड़ा नहर को पानी मिलता है। सरहिंद फीडर में भाखड़ा का शेयर भी निर्धारित है। इस तरह इस फीडर की सूरत सुधरने पर भाखड़ा को तय शेयर के अनुसार पानी मिलना संभव होगा। अभी दिसम्बर-जनवरी के महीने में उक्त फीडर से शेयर के अनुसार पानी मिलने में काफी दिक्कतें आती है। इस नहर की हालत यह है कि जगह-जगह से यह क्षतिग्रस्त है। बरसों से सार संभाल के अभाव में इस फीडर की हालत डरावनी हो चुकी है। बरसों से इस फीडर की ढंग से सफाई भी नहीं हुई। पंजाब और राजस्थान के सीएम की २५ जुलाई २०१९ को चंडीगढ़ में हुई बैठक में दोनों प्रदेशों में नहरी तंत्र के सुधार को लेकर काफी चर्चा हुई थी। इसके बाद नहर मरम्मत प्रोजेक्ट को गति मिली है।

११ को होगी बैठक
राजस्थान व पंजाब की नहरों के पुनरोद्धार को लेकर बनाए गए प्रोजेक्ट पर चर्चा करने के लिए 11 नवम्बर को दिल्ली में बैठक होगी। दिल्ली में केंद्रीय जल आयोग के मुख्य कार्यालय में बैठक संभावित है। बताया जा रहा है कि इसमें एनडीबी के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। इस बैठक में नहर मरम्मत के प्रोजेक्ट को लेकर स्थिति साफ होने के आसार हैं।

देख चुके व्यवस्था
केंद्रीय जल आयोग के सदस्यों ने मरम्मत प्रोजेक्ट को लेकर गत दिनों पंजाब का दौरा किया था। इस दौरान सरहिंद फीडर पर मरम्मत की चल रही तैयारियों का जायजा आयोग की टीम ले चुकी है। बताया जा रहा है कि सरहिंद फीडर की पैटर्न पर ही आगे इंदिरागांधी नहर की लाइनिंग और बेड लेवल सुधारने का काम होगा।

........वर्जन......
मिलेगा शेयर के अनुसार पानी
सरहिंद फीडर पंजाब भाग में लाइनिंग व बेड लेवल सुधारने का काम इसी माह चलेगा। इस काम को करवाने के लिए १६ नवम्बर से २० दिसम्बर तक बंदी ली जाएगी। सरहिंद फीडर की स्थिति सुधरने पर राजस्थान को शेयर के अनुसार पानी मिल सकेगा।
-विनोद कुमार मित्तल, मुख्य अभियंता, जल संसाधन विभाग उत्तर संभाग हनुमानगढ़

[MORE_ADVERTISE1]