स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

छठ घाट पर चढ़ रहा राजनीतिक रंग

Purushotam Jha

Publish: Oct 21, 2019 11:45 AM | Updated: Oct 21, 2019 11:45 AM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. जंक्शन में खुंजा नहर पर छठ घाट का अधूरा निर्माण पूरा करवाने की मांग को लेकर पूर्वांचलवासियों के साथ स्थानीय लोगों ने रविवार को प्रदर्शन किया। विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों के साथ पूर्वांचल समाज के लोगों ने खुंजा नहर पर धरना लगा कर जिम्मेदारों तक अपनी आवाज पहुंचाई। पूर्वांचलवासियों की इस मांग को लेकर भाजपा के लोग काफी मुखर दिखे।

 

छठ घाट पर चढ़ रहा राजनीतिक रंग
-लोगों ने खुंजा नहर पर किया प्रदर्शन
हनुमानगढ़. जंक्शन में खुंजा नहर पर छठ घाट का अधूरा निर्माण पूरा करवाने की मांग को लेकर पूर्वांचलवासियों के साथ स्थानीय लोगों ने रविवार को प्रदर्शन किया। विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों के साथ पूर्वांचल समाज के लोगों ने खुंजा नहर पर धरना लगा कर जिम्मेदारों तक अपनी आवाज पहुंचाई। पूर्वांचलवासियों की इस मांग को लेकर भाजपा के लोग काफी मुखर दिखे। वहीं आंदोलन में माकपा, कांग्रेस व भाजपा सभी दलों के लोग शरीक हुए। इस स्थिति में इस आंदोलन पर अब राजनीतिक रंग चढ़ता हुआ नजर आ रहा है। उधर खुंजा नहर पर काफी देर तक प्रदर्शन करने के बाद वार्ता के लिए एसडीएम कपिल यादव, जल संसाधन विभाग के एक्सईएन रामहंस सैनी सहित अन्य अधिकारी धरना स्थल पर पहुंचे। इस दौरान आंदोलनकारियों ने अधूरे निर्माण से छठ घाट पर श्रद्धालुओं को होने वाली कठिनाइयों से अवगत करवाया। पूर्वांचल समाज के लोगों ने कहा कि जब घोषणा की गई है तो पूरा निर्माण होना चाहिए। इसमें अधिकारी आनाकानी कर रहे हैं, जो उचित नहीं है। जल संसाधन खंड द्वितीय के एक्सईएन रामहंस सैनी ने कहा कि १०० फीट का जो टुकड़ा बचा हुआ है, उसका निर्माण जल्द करवा दिया जाएगा। लेकिन आगे का निर्माण अभी संभव नहीं है। क्योंकि विभाग के पास बजट बहुत कम है। तय प्रोजेक्ट के तहत निर्माण करवाने के लिए एस्टीमेट बनाकर सरकार को भिजवाएंगे। काम पूरा करवाने में थोड़ा वक्त लग सकता है। लेकिन हमारा प्रयास है कि अधूरे निर्माण को पूरा जरूर करवाएंगे। वार्ता में भाजपा जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई, नगर मंडल अध्यक्ष राजेंद्र चौधरी, भाजपा नेता अमित सहू, नारायणराम नायक, सावन पाइवाल, उपसभापति नगीना बाई, पार्षद कालूराम शर्मा, राजेश मदान, रणजीत सिंह, समाजसेवी सुमन चावला, माकपा नेता रघुवीर वर्मा, महेंद्र शर्मा, सुमन चावला, श्री सार्वजनिक छठ महोत्सव प्रबंध समिति के राधेश्याम गुप्ता, अनिल गुप्ता, बलदेव दास, प्रदीप पाल, केशवपाल, मिथिला सेवा समिति टाउन के अध्यक्ष बलदेव दास, पंडित मुरारीलाल शास्त्री आदि मौजूद रहे।

लॉलीपॉप लेकर उठे
छठ घाट के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने की मांग को लेकर रविवार को खुंंजा नहर पर धरना लगाया गया था। विभिन्न संगठनों का सहयोग मिलने के बावजूद आखिरकार आंदोलनकारियों को सिवाय लॉलीपॉप के कुछ नहीं मिला। जिस १०० फुट के टुकड़े का निर्माण करवाने का आश्वासन अधिकारियों ने रविवार को वार्ता में दिया, उस पर तीन दिन पहले ही सहमति बन गई थी। घाट के एक सौ फुट के बचे निर्माण को पूरा करने को लेकर विधायक चौधरी विनोद कुमार व विभागीय अभियंताओं की समझाइश पर निर्माण ठेकेदार ने तीन दिन पहले ही छठ घाट पर निर्माण सामग्री रखवा दी थी। इस स्थिति में रविवार को आंदोलन के दौरान कोई ठोस नतीजा नहीं निकल पाया। आंदोलनकारियों को सिवाय लॉलीपॉप के कुछ नहीं मिला।

बनी गहमागहमी की स्थिति
आंदोलन के दौरान सिंचाई महकमे के एक अभियंता की ओर से दिए गए बयान के बाद गहमागहमी की स्थिति बन गई। अभियंता का कहना था कि बजट है नहीं, ऐसे में १०० फीट से अधिक निर्माण संभव नहीं है। चाहे कितना भी आंदोलन कर लो। ऐसे बोल पर मौजूद लोग आक्रोशित हो गए। लोगों के आक्रोश को देखते हुए अभियंता को वहां से रवाना कर दिया गया। इसके बाद एक्सईएन रामहंस सैनी वार्ता के लिए धरना स्थल पर पहुंचे। एक्सईएन की ओर से आश्वासन मिलने पर सभी धरना खत्म करने को तैयार हुए।

कोई नहीं गंभीर
जंक्शन में खुंजा नहर पर छठ घाट का निर्माण अधूरा पड़ा है। जबकि छठ महोत्सव नजदीक है। आंदोलनकारियों के अनुसार विभागीय अभियंताओं की ओर से जब छठ घाट का प्रोजेक्ट बनाया गया था, उस समय एस्टीमेट ही ठीक से नहीं बनाया गया था। इस कमी को विभागीय अधिकारी भी दबी जुबान स्वीकार कर रहे हैं। लेकिन विभाग स्तर पर की छोड़ी गई इस कमी को दूर करने को लेकर ना तो अधिकारी गंभीरता दिखा रहे हैं और ना ही जनप्रतिनिधि इसे लेकर कोई ठोस निर्णय ले रहे हैं। इसके कारण समस्या का समाधान होने की बजाय यह अब राजनीति रंग लेने लगा है।

एमपी कोटे से दिलाएंगे बजट
धरना स्थल पर भाजपा जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई ने कहा कि छठ घाट का निर्माण हर हाल में करवाएंगे। चाहे इसके लिए हमें कुछ भी क्यों ना करना पड़े। उन्होंने बताया कि जरूरत पड़ी तो सांसद कोटे से हम विभाग को बजट उपलब्ध करवाने का प्रयास करेंगे। लेकिन अधूरे छठ घाट का निर्माण पूरा जरूर करवाएंगे।