स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बेटियों को सेल्फ डिफेंस सिखाने के लिए पुलिस करेगी मास्टर ट्रेनर तैयार

Purushotam Jha

Publish: Oct 09, 2019 22:03 PM | Updated: Oct 09, 2019 22:03 PM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. स्कूल में बेटियों को सेल्फ डिफेंस सिखाने के लिए पुलिस की टीम मास्टर ट्रेनर तैयार करेगी। पुलिस की सेल्फ डिफेंस सिखाने वाली टीम स्कूलों में कार्यरत महिला पीटीआई को मास्टर ट्रेनर के रूप में तैयार करेगी।

 

बेटियों को सेल्फ डिफेंस सिखाने के लिए पुलिस करेगी मास्टर ट्रेनर तैयार
बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक
शत प्रतिशत बालिकाओं का अगली कक्षा में प्रवेश वाली 44 स्कूलों को मिलेंगे10-10 हजार

हनुमानगढ़. स्कूल में बेटियों को सेल्फ डिफेंस सिखाने के लिए पुलिस की टीम मास्टर ट्रेनर तैयार करेगी। पुलिस की सेल्फ डिफेंस सिखाने वाली टीम स्कूलों में कार्यरत महिला पीटीआई को मास्टर ट्रेनर के रूप में तैयार करेगी। ताकि महिला पीटीआई अपने स्कूल और आसपास के स्कूल में बेटियों को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे सके। जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने बेटी बचाओ बेटी पढाओ को लेकर गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बुधवार को कलक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक में ये निर्देश दिए। बैठक में ये भी तय हुआ कि पुलिस की सेल्फ डिफेंस सिखाने वाली टीम एएनएम ट्रेनिंग सेंटर की विद्यार्थियों को और जिला अस्पताल में कार्यरत नर्सेज को भी सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दी जाएगी। ये ट्रेनिंग जंक्शन में महिला थाने में बने सेल्फ डिफेंस सेंटर पर दी जाएगी। सीओ सिटी अंतर सिंह श्योराण ने बताया कि इस सेंटर में करीब 30 विद्यार्थियों को एक साथ ट्रेनिंग जी जा सकती है। करीब 15 दिन तक प्रतिदिन एक-एक घंटे की ट्रेनिंग एक बैच को दी जाती है। बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग के सहायक निदेशक प्रवेश सोलंकी ने जानकारी दी कि जिले की 44 स्कूल ऐसी हैं जहां 5, 8 और 10 की शत प्रतिशत बालिकाओं का प्रवेश अगली कक्षा में हुआ है। लिहाजा ऐसी 44 स्कूलों को प्रत्येक को 10-10 हजार की आर्थिक सहायता महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से दी जाएगी। साथ ही बताया कि जिले की सभी सरकारी स्कूलों और सभी जिला स्तरीय कार्यालयों में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के फ्लैक्स लगाए जाएंगे। श्री सोलंकी ने बेटी बचाओ, बेटी पढाओ योजना की प्रगति बताते हुए कहा कि जिला स्थापना के 25 वर्ष पूर्ण होने पर जिले में कुल 26 हजार पौधे बेटियों के नाम पर लगाए गए थे।