स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

'हार की नहीं चाहत, बल्ला बना पहली पसंद

Manoj Goyal

Publish: Jan 14, 2020 12:43 PM | Updated: Jan 14, 2020 12:43 PM

Hanumangarh

चारपाई, वायलिन, छड़ी, बाल्टी, टॉर्च, केतली, हारमोनियम व स्टूल के निशान से परहेज

नोहर. पंचायतराज चुनाव के तहत सरपंच व पंच के चुनाव में सबसे अधिक जोर आजमाइश सरपंची के लिए हो रही है। चुनाव निशान की दौड़ में प्रत्याशियों की पहली पसंद बल्ला व अलमानी बने हैं। यहां सरपंच पद के 1९३ प्रत्याशियों में से ४७ ने बल्ला तो ४७ ने ही अलमारी के निशान को प्राथमिकता दी है। इसके अलावा गुब्बारा को ३८ व ब्रश को 2७ सरपंच पद प्रत्याशियों ने अपनाया। बिजली के खंबे के लिए 1३ तो कैमरे के लिए ८ जनों ने चाहत दिखाई। परंतु सर्दी के इस आलम में किसी भी प्रत्याशी ने कोट को लेकर दिलचस्पी नहीं दिखाई। इसके अलावा चुनाव आयोग की ओर से सुझाए गए मोतियों के हार, वायलिन, छड़ी, लैटर बॉक्स, टॉर्च, केतली, मेज, आरी, सीटी, प्रेशर कुकर, कैंची, गैस सिलेंडर, ब्रीफकेस, टेलीफोन, ऑटो रिक्शा आदि चुनाव निशान के लिए किसी ने आवेदन नहीं किया। मतदान की तारीख नजदीक आने के साथ ही सरपंच व पंच के प्रत्याशियों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया है। अपने चुनाव निशान को हाथों में लिए प्रत्याशी अब घर-घर दस्तक देने में जुटे हुए हैं। पंचायत समिति क्षेत्र की ४७ ग्राम पंचायतों में सरपंची के लिए 1९३ प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इनमें ९९ महिला व ९४ पुरुष प्रत्याशी शामिल हैं।

सरपंच पद के लिए सबसे अधिक ग्यारह प्रत्याशी जसाना ग्राम पंचायत में डटे हुए हैं। इसी प्रकार वार्ड पंच के लिए कानसर व भोगराना के वार्ड पंचों का निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। इसके साथ ही ४५ ग्राम पंचायतों के 212 वार्ड पंच पदों के लिए ४५७ प्रत्याशी मैदान में हैं। पंचायत समिति क्षेत्र की कुल ४७ ग्राम पंचायतों के कुल 2 लाख 4 हजार ४५५ मतदाता अपने गांवों की सरकार चुनेंगे। इनमें 1 लाख ८ हजार ३८८ पुरुष व ९६ हजार ६७ महिला मतदाता शामिल हैं। पंचायत समिति क्षेत्र में आरक्षण के तहत एससी की ६, एससी महिला की ६, ओबीसी की ५, ओबीसी महिला की ५, सामान्य 1३ व सामान्य महिला के लिए 12 ग्राम पंचायतों में आरक्षण तय किया गया है। सरपंच व पंच पदों के लिए मतदान 1७ जनवरी को सुबह ८ बजे से सांय ५ बजे तक होगा। इसी दिन मतदान समाप्ति के तुरंत पश्चात पंचायत मुख्यालय पर ही मतगणना होगी। उप सरपंच का चुनाव 1८ जनवरी को होगा। [नसं.]


पंचायत चुनाव में शिक्षा, चिकित्सा, पानी व नशा जैसे मुद्दे गायब
भादरा. पंचायत समिति क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में इस समय प्रत्याशियों का जनसम्पर्क अभियान जोरों पर गति पकड़े हुए है। प्रत्याशी समर्थकों सहित अपने चुनाव अभियान में लगे हुए हैं। हर कोई अपनी जीत को सुनिश्चित करने के लिए प्रयासरत है। वादे हो रहे हैं विकास की बातें भी हो रही हैं। अधिकांश पंचायतों में मतदाता भी गांव - गली की समस्याओं को छोड़ कर चुनावी रंग में शामिल हो रहे हैं। शिक्षा, स्वास्थ्य, चिकित्सा व पेयजल जैसे मुद्दों पर बहुत ही कम चर्चा हो रही है। क्षेत्र के उतर ओर की अनेक पंचायतों में चिट्टे जैसे नशे के खिलाफ भी पूर्व में बहुत बार बातें होती रही है किन्तु अब चुनाव में प्राय: इस पर बात कम ही हो रही है।

कई पंचायतों में शिक्षा, चिकित्सा व पेयजल व बिजली जैसी समस्याओं पर बात होने की आवश्यकता के बावजूद इन पर प्राय: मौन ही दिखता है। चुनाव से पहले गांव भिरानी में चुनाव दौरान शराब, पैसा व उपहार आदि का वितरण प्रत्याशियों द्वारा नहीं करने व मतदाताओं द्वारा नहीं लेने पर सहमति बनी किन्तु इसको लेकर दूसरी पंचायतों में कोई चर्चा तक होने की जानकारी सामने नही आई है। ग्रामीणों की तरफ से प्रत्याशियों को सिक्कों, फलों, लड्डूओं से तोलने के साथ -साथ माला पहनाकर समर्थन दिया जा रहा है।


इस बार पंचायत चुनाव में 21 वर्ष आयु वाले सात प्रत्याशी चुनाव मैदान में है। जिसमें मनीषा ग्राम करणपुरा, सुरेश कुमार ग्राम घेऊ, सुषमा ग्राम जोगीवाला से, मनीषा ग्राम डाबडी से, पूनम ग्राम डूंगराना से, सुरेन्द्र ग्राम महराना से, आशीष ग्राम रासलाना से चुनाव लड़ रहे है। ग्राम करणपुरा में सर्वाधिक आयु वाले हरीराम (88) चुनाव मैदान में है। ग्राम अजीतपुरा की पंचायत सीट हमेशा से चर्चित रही है। इस सीट से ठिकानेदार परिवार का प्रभाव रहा है। गत चुनाव में गजराज कंवर इसी परिवार से सरपंच थी व इस बार इनके देवर गोविन्दसिंह सरपंच पद के प्रत्याशी है।


ग्राम कणाऊ में सरपंच रही सावित्री सहू के पति अर्जुनराम सहू चुनावी मैदान में है। ग्राम डोबी पंचायत से सरपंच सुनिता सहारण पुन: चुनाव मैदान में है। ग्राम कुजी के सरपंच शीशराम भुकर की पुत्रवधु इस बार चुनाव मैदान में है। ग्राम रासलाना से सरपंच रही चन्द्रकला फडोलिया के पति भीमसिंह फडोलिया चुनाव मैदान में है। ग्राम सरदारगढिया में पूर्व सरपंच रही कौशल्या बैनीवाल इस बार चुनाव मैदान में है।


ग्राम चिडिय़ागांधी के सरपंच सतवीर धायल की पत्नी कान्ता धायल चुनाव मैदान में है। ग्राम भोजासर के पूर्व सरपंच रहे नरेन्द्र यादव की पत्नी नीरू यादव व पूर्व सरपंच रहे ओम बैनीवाल की पुत्रवधु सरोज कुमारी, भाड़ी सरपंच रामसिंह घोटिया की पत्नी फूलवती चुनाव मैदान में है। ग्राम नेठराना में पूर्व सरपंच मास्टर हनुमान प्रसाद के पुत्र राजेन्द्र नीमिवाल, पूर्व सरपंच रही सरस्वती सहारण चुनाव मेदान में है।


सरपंच पद के लिए 214 व पंच के लिए 622 ने कराए नामांकन जमा
रावतसर. पंचायत चुुनावों को लेकर रावतसर पंचायत समिति की सभी 36 पंचायतों में सरपंच व पंच पद के उम्मीदवारों ने सोमवार को पंचायत भवन में नामांकन जमा कराए। सुबह बरसात के बीच मुहूर्त के हिसाब से उम्मीदवारों ने नामांकन भरे। रावतसर पंचायत समिति क्षेत्र में सरपंच पद के लिए कुुल 214 नामांकन भरे गए। सरपंच पद के लिए सर्वाधिक नामांकन पत्र नवगठित ग्राम पंचायत बुधवालिया में 11 भरे गए। वहीं सबसे कम ग्राम पंचायत 22 एजी व कनवानी में भरे गए। पंच पद के लिए 622 आवेदन जमा हुए। ग्राम पंचायत बरमसर में 6, चाईया में 5, झेदासर में 7, केलनिया में 6, मोटेर में 6, 6-7 डीडब्ल्यूडी में 6, 99 आरडी में 4, मालासर में 7, नैयासर में 4, 4 सीवाईएम में 9, 29 डीडब्ल्यूडी में 7, गंधेली में 7, मोधुनगर में 4, भैरूसरी में 5, मायला में 5, न्यौलखी में 10, पूरबसर में 5, बुधवालिया में 11, 4 डीडब्ल्ययूएम में 6, 10 केडब्ल्यूडी में 5, बिसरासर में 5, धन्नासर में 4, दनियासर में 5, हरदासवाली में 7, निरवाल में 6, पल्लू मेंं 7, पोहड़का में 6, रामपुरा मटोरिया में 4, 15-16 केडब्लयूडी में 7, 22 एजी में 2, 25 आरडब्ल्यूडी में 8, धान्धूसर में 6, कनवानी में 2, खेदासरी में ५, खोडा में 9 तथा सरदारपुरा में 6 नामांकन भरे गए। शाम साढ़े चार बजे तक नामांकन भरे गए। मंगलवार सुबह दस बजे से नामंाकन पत्र वापिस लिए जा सकेंगे। इसके बाद चुनाव चिन्ह वितरण किए जाएंगे। 22 जनवरी को मतदान होगा। इसमें 1 लाख 24 हजार 679 मतदाता सरपंच व पंचों का निर्वाचन करेंगे। मतदान प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद मतगणना की जाएगी। उसी दिन शाम तक सभी पंचायतों का चुनाव परिणाम जारी किया जाएगा।


सरपंच व वार्ड पंचों ने दाखिल किए नामांकन
टिब्बी. पंचायतीराज संस्थाओं के चुनावों के तहत टिब्बी पंचायत समिति क्षेत्र की सभी तीस ग्राम पंचायतों के तीस सरपंच व ३६० वार्ड पंचों के लिए सोमवार को नामांकन दाखिल हुए। इसके लिए रविवार को रिटर्निग अधिकारी क्षेत्र की सभी ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर पहुंच गए थे। सरपंच व वार्ड पंचो के नामांकन के तहत नामांकन प्रक्रिया कस्बे के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर में हुई वहीं क्षेत्र की अन्य ग्राम पंचायतों में नामांकन प्रक्रिया राजीव गांधी सेवा केन्द्र अथवा ग्राम पंचायत भवन में हुई। सोमवार सुबह १०.३० से शाम ४.३० तक नामांकन दाखिल किए गए। इस दौरान नामांकन स्थलों पर ग्रामीणों की भारी भीड़ रही।


क्षेत्र की सभी तीस ग्राम पंचायतों के सरपंच व वार्ड पंचो के लिए शाम ४.३० तक दाखिल हुए नामांकन में उम्मीदवारों ने अपने नामांकन दाखिल करवाए। नामांकन प्रक्रिया के दौरान प्रत्याशियों के रिकॉर्ड का हाथों-हाथ कम्पयूटर से अपडेशन किया गया। इस दौरान क्षेत्र में बरसात का दौर जारी रहने से ग्रामीणों को कुछ परेशानी भी उठानी पड़ी। बरसात की वजह से दोपहर तक बिजली आपूर्ति भी बंद रही। जिसके कारण अंधेरा छाया रहने से प्रत्याशियों को टार्च जलाकर फार्म भरने पड़े। सोमवार को नामांकन पत्र दाखिल होने के बाद मंगलवार को शाम तीन बजे तक नाम वापसी तथा इसके बाद चुनाव चिन्ह का आवंटन किया जाएगा।


अधिकारियों ने किया निरीक्षण
क्षेत्र के ग्राम पंचायत भवन कार्यालय अथवा राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर सोमवार को हुई नामांकन प्रक्रिया का अधिकारियों ने निरीक्षण किया।
इस दौरान तहसीलदार श्याम सुन्दर बैनीवाल ने कई ग्राम पंचायतों में नामांकन प्रक्रिया की जानकारी ली तथा रिटर्निग अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान उन्होने व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

[MORE_ADVERTISE1]