स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लोक परिवहन व रोडवेज बसों के स्टैंड को लेकर हुआ फिर विवाद

Purushotam Jha

Publish: Dec 19, 2019 10:39 AM | Updated: Dec 19, 2019 10:39 AM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. जंक्शन बस स्टैंड में लोकपरिवहन की बसों के प्रवेश को लेकर फिर से विवाद शुरू हो गया है। कुछ दिन पहले ही नगर परिषद ने लोकपरिवहन की बसों का संचालन जंक्शन के मुख्य बस स्टैंड से करने की अनुमति दी थी।

 

लोक परिवहन व रोडवेज बसों के स्टैंड को लेकर हुआ फिर विवाद
रोडवेज कर्मियों ने लोक परिवहन बसों के बस स्टैंड में प्रवेश पर रोक की मांग
मांगे नहीं माने जाने पर २४ को पूरे संभाग में हड़ताल रखने की
दी चेतावनी
हनुमानगढ़. जंक्शन बस स्टैंड में लोकपरिवहन की बसों के प्रवेश को लेकर फिर से विवाद शुरू हो गया है। कुछ दिन पहले ही नगर परिषद ने लोकपरिवहन की बसों का संचालन जंक्शन के मुख्य बस स्टैंड से करने की अनुमति दी थी। इसी संदर्भ में बुधवार को राजस्थान रोडवेज संघर्ष समिति के बैनर तले कर्मचारियों ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंप लोक परिवहन की बसों के मुख्य स्टैंड में प्रवेश पर रोक लगाने की मांग की है। ज्ञापन के माध्यम से लोक परिवहन बसों को बस स्टेण्ड से चलाने के किए आदेश को निरस्त करने व राजस्थान रोडवेज अधिकृत बस स्टैंड से दो से तीन किमी दूर अन्य जगह पर स्टैंड स्थापित करने की मांग की गई।
आरोप लगाया कि नगरपरिषद आयुक्त ने लोक परिवहन बसों को बस स्टेण्ड से चालने के आदेश दिए हैं, इससे परिवहन आयुक्त के आदेशों की अवहेलना हो रही है। ज्ञापन में बताया कि इससे पूर्व भी 24 नवम्बर 2015 के तहत लोक परिवहन वाहनों को बस स्टेण्ड से संचालित करने के उक्त आदेश निरस्त हो चुके हैं।
कर्मचारी नेता नायब सिंह व सतवीर गोस्वामी ने बताया कि दो सितंबर २०१५ के आदेशानुसार अधिसूचना जारी कर लोक परिवहन वाहनों के अनुज्ञा पत्रों व फरों की संख्या नियुक्त की जा चुकी है। अधिसूचना में क्रम संख्या 38 पर रायसिंहनगर रावतसर के 16 अनुज्ञा पत्र 80 फेरे दर्शाए गए हैं। लेकिन आरटीओ बीकानेर ने इसकी संख्या बढ़ा दी। कर्मचारियों ने बताया कि परिवहन आयुक्त व प्रमुख शासन सचिव की ओर से दिसम्बर 2016 में प्रदेश के समस्त जिला कलेक्टर को लोक परिवहन बसों का संचालन बस स्टैंड से दूर अन्यत्र स्थान से करवाने के लिए निर्देशित किया गया था इसके बावजूद नगरपरिषद आयुक्त व परिवहन विभाग के अधिकारियों ने उच्चाधिकारियों की अदेशों की अवहेलना करते हुए आदेश जारी कर दिए। ज्ञापन के माध्यम से जारी किए नए आदेशों को निरस्त करने की मांग की गई और चेतावनी दी कि ऐसा नहीं करने पर पूरे संभाग में २४ दिसंबर को रोडवेज की हड़ताल होगी और बसों की चाबियां जिला परिवहन अधिकारी को सौंपी जाएगी। इस मौके पर दलीचंद, रघुवीर खोसा, भूरा सिंह, गुरलाल सिंह, विजय सोनी, शिवकुमार, महेन्द्र सिंह देग, रणजीत सिंह, विक्रांत सहारण, सुरेन्द्र करीर आदि मौजूद रहे।

[MORE_ADVERTISE1]