स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खाद्य सर्वे से मनमाने तरीके से हटाए गए नामों को लेकर नागरिकों में आक्रोश

Anurag Thareja

Publish: Aug 21, 2019 11:35 AM | Updated: Aug 21, 2019 11:35 AM

Hanumangarh

 

खाद्य सर्वे से मनमाने तरीके से हटाए गए नामों को लेकर नागरिकों में आक्रोश

 

भादरा में उपखंड अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

खाद्य सर्वे से मनमाने तरीके से हटाए गए नामों को लेकर नागरिकों में आक्रोश


भादरा. स्थानीय वार्ड नम्बर 8 के बीपीएल परिवारों के नागरिकों व महिलाओं ने मंगलवार को उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन देकर खाद्य सुरक्षा में दुर्भावना काटे गए बीपीएल परिवारों के नामों को लेकर आक्रोश जताया एवं ज्ञापन सौंपते हुए नाम जोड़े जाने व नगरपालिका के दोषी कर्मचारी के विरूद्ध कार्यवाही करने की मांग की है। ज्ञापन के अनुसार संबंधित सर्वे करने वाले ने घर बैठकर कार्यवाही करते हुए बीपीएल परिवारों के नाम खाद्य सुरक्षा से हटा दिये है। ज्ञापन में आरोप लगाया है कि राशन कार्ड अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत आते हैं। यह सभी कार्ड धारक गरीब श्रमिक व भूमिहीन है। इन्हे चालु माह में राशन से जोड़ा जाकर राशन दिया जाए।
इसी क्रम में कांगे्रसजनों ने उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन देकर खाद्यसुरक्षा सर्वे में पात्र एवं गरीब लोगों के हटाये गये नामों को पुन: जोडऩे व दोषी कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही करने की मांग की है। ज्ञापन के अनुसार सर्वे में 17 सौ के लगभग जरूरतमंद नागरिकों के नाम हटा दिए गए है। जिसके चलते गरीब लोग डीलर, नगरपालिका व उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में चक्कर लगा रहे है। नगर अध्यक्ष महमूद भाटी व कांगे्रस जिला उपाध्यक्ष भंवरखां, किसान कांग्रेस प्रदेश महासचिव दयानन्द बेरवाल, मालचन्द राजपुरोहित, आनन्द वर्मा व रविन्द्र मोठसरा ज्ञापन देने वाले शिष्ठमण्डल में उपस्थित थे।