स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बलात्कार के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर ठग रहे पैसे, रावतसर के बाद टिब्बी से पकड़ा गैंग

Adrish Khan

Publish: Sep 21, 2019 12:29 PM | Updated: Sep 21, 2019 12:29 PM

Hanumangarh

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. बलात्कार के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर पैसे ठगने के मामले निरंतर सामने आ रहे हैं। पिछले सप्ताह रावतसर पुलिस ने दुराचार के मामले में फंसाने की धमकी देकर रुपए ऐंठने के आरोप में दंपती सहित पांच जनों को गिरफ्तार किया था। अब टिब्बी पुलिस ने ऐसा ही एक अन्य गैंग पकड़ा है।

बलात्कार के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर ठग रहे पैसे, रावतसर के बाद टिब्बी से पकड़ा गैंग
- हनीट्रैप में फंसा रुपए वसूलने का गैंग पकड़ा
- तीन महिलाओं सहित पांच जने गिरफ्तार
- जिले में लगातार सामने आ रहे ऐसे मामले
हनुमानगढ़. बलात्कार के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर पैसे ठगने के मामले निरंतर सामने आ रहे हैं। पिछले सप्ताह रावतसर पुलिस ने दुराचार के मामले में फंसाने की धमकी देकर रुपए ऐंठने के आरोप में दंपती सहित पांच जनों को गिरफ्तार किया था। अब टिब्बी पुलिस ने ऐसा ही एक अन्य गैंग पकड़ा है। तीन महिलाओं सहित पांच जनों को टिब्बी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। टिब्बी पुलिस ने बलात्कार का झूठा मामला दर्ज कराने की धमकी देकर दस लाख रूपए की मांग करने वाले गैंग के पांच सदस्यों को शुक्रवार को गांव पन्नीवाली के पास धर दबोचा। पकडे गए गैंग के पांच सदस्यों में तीन महिलाएं हैं। पुलिस के अनुसार हनुमानगढ़ के अम्बेडकर कॉलोनी निवासी सोमदत्त पुत्र लाधुराम जाति मोची ने गुरूवार शाम को परिवाद दिया था। जिसमें आरोप लगाया गया था कि पीरकामडिया निवासी अकरम उर्फ अख्तर हुसैन उर्फ गौरू पुत्र जवार खां ने आलमारी व काउंटर दिखाने के बहाने उसे 18 सितम्बर को अपने घर बुलाया। घर में मौजूद रसीदा बीबी पत्नी साबर अली निवासी गाहडू उसके लिए पानी लेकर आई तथा उसके पास चारपाई पर बैठ गई। तभी वहां राठीखेडा निवासी मोमन खां पुत्र गुलाब अली तथा अनारा बीबी पत्नी गामें खां व अमीरा बीबी पत्नी जवार खां मौके पर पहुंच गई तथा उससे मारपीट शुरू कर दी। आरोप है कि इस दौरान आरोपियों ने चाकू दिखाकर उसकी आपत्तिजनक वीडियो बना ली।
इसके बाद में सभी ने उसको बलात्कार का झूठा मामला दर्ज कराने की धमकी देते हुए दस लाख रूपए की मांग की लेकिन उसने इतनी रकम उसके पास नही होने की बात कही तो आरोपियों ने पहले दो लाख तथा बाद में तीस हजार रूपए दिए जाने पर सहमति जताते हुए उसका मोटरसाइकिल व मोबाइल छीन कर उसे भेज दिया। परिवाद पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने शुक्रवार को पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।
पहले बिछाया जाल
हनीट्रैप में फंसाकर ब्लैकमेल करने वाले गैंग को पकडने के लिए टिब्बी पुलिस ने गांव पन्नीवाली के पास शुक्रवार सुबह जाल बिछाया तथा पीडि़त युवक से आरोपियों को रूपये लेने के लिए पन्नीवाली बस अड्डे पर बुलाया। इस दौरान सिविल ड्रैस में पुलिस कर्मी आसपास खेतों में छिपकर बैठ गए। थोडी देर में मोटरसाइकिल पर अकरम उर्फ अख्तर उर्फ गोरू अपनी मां अमीरा बीबी के साथ पन्नीवाली बस स्टैण्ड पर रूपये लेने पहुुंचा तो पुलिस टीम ने दोनों को मौके पर ही दबोच लिया। बाद में पुलिस टीम ने मोमन खां, रसीदा बीबी व अनारा बीबी को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपियों को शनिवार को अदालत में पेश कर उनका रिमाण्ड प्राप्त करेगी। हनीट्रैप में फंसाकर ब्लैकमेल करने के आरोपियों को पकडने में एसआई ओमप्रकाश सुथार, हैड कांस्टेबल महेन्द्र सिंह भांभू, कांस्टेबल अमर सिंह, महिला कांस्टेबल मीना आदि की मुख्य भूमिका रही।