स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गर्मियों में फिर झेलनी पड़ेगी पानी की किल्लत, 60 टंकियां अधर में

Rizwan Khan

Publish: Nov 12, 2019 01:16 AM | Updated: Nov 12, 2019 01:17 AM

Gwalior

शहर में अमृत योजना के तहत बनाई जा रहीं पानी की टंकियों का निर्माण बेहद धीमी गति से चल रहा है, इससे इनके निर्धारित समय मार्च-2020 तक पूरे होने की संभावना कम है।

ग्वालियर. शहर में अमृत योजना के तहत बनाई जा रहीं पानी की टंकियों का निर्माण बेहद धीमी गति से चल रहा है, इससे इनके निर्धारित समय मार्च-2020 तक पूरे होने की संभावना कम है। कई टंकियों का काम 50 प्रतिशत भी पूर्ण नहीं हो पाया है, जबकि कई जगह काम शुरू भी नहीं हुआ है। ऐसे में गर्मियों में शहर को फिर पानी की किल्लत झेलनी पड़ेगी।
शहर में 60 टंकियों का निर्माण किया जाना है, जिससे उन क्षेत्रों में पानी की समस्या का समाधान होगा। लेकिन नगर निगम अधिकारियों द्वारा ध्यान न देने से काम धीमी गति से चल रहा है। कई बार परिषद में यह मामला उठ चुका है। सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने भी धीमी गति पर निगमायुक्त को निर्माण कंपनी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए थे। यहां तक कि सांसद ने कंपनी पर एफआइआर दर्ज कराने को कहा था। इसके बावजूद कार्रवाई नहीं की गई।


यहां शुरू ही नहीं हुआ काम
वार्ड 18 और 19 में भी टंकी का निर्माण होना है, लेकिन यहां अभी कार्य शुरू ही नहीं हुआ है। पार्षदों ने परिषद में यह मामला उठाया था, फिर भी काम शुरू नहीं किया गया। वार्ड 50 में टंकी का निर्माण बंद है। यहां के पार्षद ने कई बार निगम अधिकारियों से शिकायत की, परिषद में भी मामला उठा, जिस पर काम शुरू हुआ, लेकिन फिर बंद कर दिया गया। पार्षद वंदना अरोरा ने इसे लेकर धरना भी दिया, लेकिन अधिकारियों पर कोई असर नहीं हुआ। कई जगहों पर अभी काम शुरू ही हुआ है।

[MORE_ADVERTISE1]