स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अब बोर्ड परीक्षा में पास होने के लिए चाहिए इतने अंक, छात्रों में खुशी की लहर

monu sahu

Publish: Oct 23, 2019 11:21 AM | Updated: Oct 23, 2019 11:21 AM

Gwalior

100 के स्थान पर 80 अंक का होगा पेपर, हिंदी, अंग्रेजी, गणित, सामाजिक विज्ञान के लिए भी प्रैक्टिकल होगा

ग्वालियर। माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित हाईस्कूल और हायर सेकंडरी की बोर्ड परीक्षा में बैठने वाले परीक्षार्थियों को उत्र्तीण होने के लिए अब 33 की जगह पर 27 अंक ही लाने होंगे। क्योंकि अब 100 के स्थान पर 80 अंक का पेपर हल करना होगा। हालांकि विभाग की यह व्यवस्था पिछले साल की है। परंतु प्रचार-प्रसार नहीं होने के कारण विद्यार्थियों को इसका लाभ नहीं मिल पाया था, लेकिन इस बार मंडल कोई गलती नहीं करना चाहता है। इसके लिए मंडल के द्वारा दिशा निर्देश दिए गए है और जिला शिक्षा विभाग के अधिकारियों को भी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। दरअसल पहले 10वीं के छात्र सिर्फ विज्ञान के लिए प्रैक्टिकल परीक्षा देते थे।

यह 25 अंकों की होती थी, लेकिन अब हिंदी, अंग्रेजी, गणित, सामाजिक विज्ञान के लिए भी प्रैक्टिकल होगा। विज्ञान समेत ये सभी परीक्षाएं 20 अंकों की होंगी। यानी विज्ञान की मुख्य परीक्षा 75 की जगह अब 80 अंकों की होगी।, 12वीं कक्षा में भी विज्ञान, कला और गृह विज्ञान विषयों में छात्रों को 75 की जगह 70 अंकों की मुख्य परीक्षा देनी होगी। जबकि प्रैक्टिकल परीक्षा 25 की जगह 30 अंकों की कर दी गई है।इसके अलावा कॉमर्स में भी प्रैक्टिकल की परीक्षा होगी।

हालांकि कॉमर्स के छात्रों को 80 की मुख्य परीक्षा और 20 अंकों का प्रैक्टिकल देना होगा। यह बदलाव 2019 की बोर्ड परीक्षा से ही लागू किया गया था, लेकिन इसका सही से प्रचार-प्रसार नहीं हो सका था, इस कारण छात्र नए पैटर्न का लाभ नहीं ले पाए थे। इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल ने गंभीरता दिखाई है। जिला शिक्षा अधिकारी वकील सिंह रावत ने बताया कि बोर्ड परीक्षा मंडल के निर्देशानुसार सम्पन्न कराई जाएगी। इसके लिए तैयारियां की जा रही है।

31 केन्द्रों पर होगी बोर्ड परीक्षा
बोर्ड परीक्षा के लिए शिक्षा विभाग ने 31 परीक्षा केन्द्र प्रस्तावित कर लिए है। परीक्षा केन्द्रों की सूची मंजूरी के लिए मंडल को भेज दी गईहै। शिक्षा विभाग के मुताबिक कक्षा 10 वीं की बोर्ड परीक्षा में इस बार 7 हजार 172 छात्र-छात्राएं शामिल होगे। इनमें 6 हजार 184 छात्र-छात्राए रेगुलर और 988 छात्र-छात्राए प्रायवेट रहेगे। जबकि कक्षा 12 वीं की बोर्ड परीक्षा में 4 हजार 732 छात्र-छात्राएं शामिल होगे। जिनमें 4 हजार 274 छात्र रेगुलर और 458 छात्र प्रायवेट रूप में शामिल होगे।