स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मंत्री की 'भक्ति' से खुश नहीं हैं ज्योतिरादित्य, चरण में लोटने पर तोमर बोले- मैं सिंधिया परिवार का सेवक हूं

Muneshwar Kumar

Publish: Nov 11, 2019 20:03 PM | Updated: Nov 11, 2019 20:03 PM

Gwalior


सिंधिया ने कहा है कि मैं इससे खुश नहीं, दुखी हूं

ग्वालियर/ अपने आकाओं की भक्ति तो सब करते हैं। लेकिन पद की गरिमा का ख्याल भी रखना होता है। कमलनाथ के मंत्री ने इसे ताख पर दिखा। मालिक पर नजर पड़ते ही भूल गएं कि हम मंत्री हैं और चरणों में लोट गए। वीडियो वायरल हुआ तो मालिक सिंधिया भी दुखी हो गए। लेकिन भक्त तो भक्त ठहरे। मंत्री जी ने भी सफाई दी कि उनके चरणों में लोटने पर हमें गर्व है।

[MORE_ADVERTISE1]

दरअसल, कांग्रेस महासचिव ज्योदिरादित्य सिंधिया सोमवार को ग्वालियर पहुंचे। स्वागत के लिए हजारों कार्यकर्ताओं की भीड़ थी। सभी ज्योतिरादित्य सिंधिया के चरण स्पर्श को बेताब था। हिंदुस्तान में यह संस्कृति भी रही है कि लोग अपने से बड़ों का पैर छूकर आर्शीवाद लेते हैं। लोग ले भी रहे थे। लेकिन मध्यप्रदेश सरकार के खाद्य आपूर्ति मंत्री प्रद्युन सिंह तोमर भी सिंधिया को देख खुद को रोक नहीं पाए।

[MORE_ADVERTISE2]
[MORE_ADVERTISE3]


पैर पर गिर गए
तोमर भूल गए कि वह प्रदेश सरकार में मंत्री हैं। भीड़ में ही ज्योतिरादित्य सिंधिया के चरणों में लोटकर उनका आशीर्वाद लिया। आप कहेंगे कि इसमें बुराई क्या है। जब आप किसी जिम्मेदार पद पर होते हैं तो अपने व्यक्ति रिश्तों को सार्वजनिक मंचों पर नहीं लाना होता है। लेकिन राजनीति में लोग ऐसा करते हैं, पीएम मोदी भी पैर छूकर आशीर्वाद लेते हैं। लेकिन वह अपने से बड़े और बुजुर्ग नेताओं की। मगर सिंधिया प्रद्युमन सिंह तोमर से उम्र में बड़े नहीं होंगे।

मंत्री प्रद्युमन को है गर्व
पैर छूते हुए वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल है। मंत्री प्रद्युमन सिंह को तोमर को इस पर सफाई देनी पड़ी है। उन्होंने कहा कि इसमें गलत क्या है, वह हमारे मालिक हैं और मैं उनका सेवक हूं। उन्होंने कहा कि मैं जनता और सिंधिया परिवार का सेवक हूं। मुझे इस पर गर्व है। प्रद्युमन सिंह तोमर ने कहा कि मैं मालिक नहीं हूं।

सिंधिया हैं दुखी
वहीं, मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर के चरण वंदना पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मैं इस तरह की चीजों के खिलाफ हूं। प्रद्युमन सिंह तोमर ने जो किया है, उससे मैं खुश नहीं हूं। बल्कि मैं भी इससे काफी दुखी हूं। इसके साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अयोध्या मामले को लेकर कोर्ट के फैसले को सही बताया है।

बीजेपी ने उठाए सवाल
मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर के चरण वंदना पर बीजेपी ने सवाल उठाया है। ग्वालियर से सांसद शेजवलकर ने कहा कि व्यक्तिगत रिश्ते अपनी जगह हैं। लेकिन सार्वजनिक में जीवन में इस पद पर बैठे व्यक्ति को इससे बचना चाहिए। इसके साथ ही नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने भी इस पर सवाल उठाया है।

सिंधिया खेमे के मंत्री हैं प्रद्युमन
दरअसल, मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने पिछले दिनों नाले और नाली की सफाई कर चर्चा में थे। तोमर कमलनाथ की सरकार में ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के मंत्री हैं। तोमर सिंधिया के पक्ष में मुखर होकर अपनी बात रखते रहते हैं। तोमर के साथ ही कई और मंत्री भी सरकार में हैं जो ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के हैं।