स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गए थे एंबूलेंस लेने, दिखा गया मृतक की हत्या का आरोपी, ये खबर होश उड़ा देगी

Gaurav Sen

Publish: Jul 20, 2019 12:25 PM | Updated: Jul 20, 2019 12:25 PM

Gwalior

लूटी कार में घूम रहे थे आरोपी, थाने के पास से परिजनों ने पकड़वाया

ग्वालियर। रेलवे स्टेशन से 16 जुलाई को टैक्सी सहित किडनेप ऑपरेटर रिंकू बरैया (40) को भी लुटेरों ने उसकी कार लूटने के लिए मार डाला था। शुक्रवार को चिकासी, हमीरपुर जाकर परिजन ने उसका शव पहचान लिया। सवारी बनकर कार में बैठे आरोपियों ने रिंकू का गला घोंट दिया था और कार लूट ले गए थे। रिंकू की हत्या के बाद हत्यारे बेफ्रिक होकर लूटी कार लेकर घूम रहे थे। रिंकू के शव को लेने गए उसके परिजन ने कार को पहचान लिया और एक हत्यारे को दबोच भी लिया। अब राठ, यूपी क्राइम ब्रांच आरोपी से बाकी गैंग मेंबर्स के नाम उगलवा रही है।

धीरू ने बताया चिकासी गांव, हमीरपुर में मिला शव छोटे भाई रिंकू पुत्र श्यामसुंदर निवासी लाइन नंबर तीन हजीरा का था। दो दिन पुराना होने से शव का चेहरा बिगड़ चुका था। उसके कपड़े, कदकाठी और नाभी की बनावट से उसे पहचान लिया। आरोपियों ने कार लूटने के लिए रिंकू का गला घोंटा था। उन्हें उम्मीद नहीं थी कि रिंकू के शव की पहचान हो जाएगी। इसलिए उसकी जान लेने के बाद लूटी कार लेकर बेधडक़ राठ, यूपी थाने के पास ही घूम रहे थे। हत्यारों में से एक को परिजन ने ही कार सहित पकड़ लिया।

VIDEO : औरत बनकर किया सरकारी शिक्षकों ने डांस, महिला शिक्षकों ने लगाऐ ठुमके

 

हत्यारा राठ थाने से करीब आधा किमी की दूरी पर कार लेकर खड़ा था। रिश्तेदार सोनू की नजर कार पर पड़ी तो उसमें बैठे बदमाश को घेर लिया। उससे पूछा कि कार किसकी है तो वह सकपका गया। चकमा देने बोला कार उरई निवासी उसके दोस्त की है। जुए में 80 हजार रुपया हार गया था तो कार बेच गया है। कार की तलाशी ली तो उसमें दस्तावेज और रिंकू का ड्राइविंग लाइसेंस मिल गया। चिकासी पुलिस को बताया तो राठ क्राइम ब्रांच गैंग के बाकी बदमाशों का पता लगाने उसे ले गई है। लूट और हत्या में गिरोह के तीन बदमाश अभी फरार हैं।

यह भी पढ़ें : पहले साथ खड़े होकर खाए पानी के बतासे, मौका मिलते ही महिला से की गंदी हरकत

एम्बुलेंस लाने निकले थे, दिखा आरोपी
परिजन ने बताया कि रिंकू के शव पहचान के बाद उसे ग्वालियर लाना था, उसके लिए एम्बुलेंस की जरूरत थी। इसलिए राठ कस्बे में आए थे। वहां थाने के पास हत्यारा लूटी कार में घूम रहा था। उसे दबोच लिया। वाट्सऐप पर उसका फोटो रेलवे स्टेशन पर रिंकू के साथियों को भेजा तो उन्होंने फोटो देखकर पहचान लिया, जो 16 अप्रैल को सवारी बनकर आया था। उरई चलने के लिए रिंकू की कार को बुक कर ले गया था।

यह भी पढ़ें : दिन दहाड़े हुआ लडक़ी का अपहरण, छोटी बहन ने बताई ये कहानी

तीसरी वारदात, एक ही लिंक

  • 23 मई- गौरव तोमर को हत्यारे बस स्टैंड से कार बुक कर ले गए थे। करैरा के पास पहुंचकर गौरव की हत्या कर उसका शव तालाब में फेंका और कार लूटी। हत्या और लूट में पुलिस ने तीन आरोपियों को पकड़ा है।
  • 16 मई- रेलवे स्टेशन से लुटेरे शील नगर निवासी विक्रम धाकड़ की कार को झांसी के लिए बुक कर ले गए थे। रास्ते में विक्रम धाकड़ को गन प्वॉइंट पर कार से उतारा, उसे पीटा मोबाइल और कार लूटकर ले गए।

 

gwalior taxi driver dead body found in hamirpur

हजीरा चौराहे पर शव रख देर रात चक्काजाम
केस की एफआइआर को लेकर परिजनों ने शुक्रवार देर रात तक रिंकू का शव हजीरा चौराहे पर रखकर चक्काजाम कर दिया। उनका कहना था कि यूपी में भी पुलिस ने एफआईआर नहीं करी यहां भी केस दर्ज नहीं हुआ है। उन्हें हत्या और लूट की एफआईआर चाहिए। जब तक केस दर्ज नहीं होगा जाम नहीं खोलेंगे। इससे पहले परिजन थाने पहुंचकर भी यही मांग की थी। पुलिस की थ्योरी में विक्रम और रिकूं की कार लूटने वाले बदमाशों का लिंक एक हो सकता है। दोनों गिरोह कार लूटने के लिए झांसी और जालौन के रूट पर गए हैं। उनका हुलिया भी मेल खा रहा है।

ग्वालियर में कराओ एफआईआर
हत्या में शामिल आरोपी ने हत्या और कार लूट की हामी भरी है। बाकी दो को तलाशा जा रहा है। एफआईआर ग्वालियर पुलिस करना चाहिए क्योंकि बदमाशों ने पूरी प्लानिंग से रिंकू को अगवा किया था।
आर के पटेल, निरीक्षक चिकासी थाना यूपी

यूपी पुलिस नहीं कर रही तो हम करेंगे कार्रवाई
यूपी पुलिस केस दर्ज नहीं करती है तो हत्या और लूट का केस पड़ाव थाने में दर्ज किया जाएगा। आरोपियों पर सख्त कार्रवाई होगी।
ए के पांडेय डीआईजी ग्वालियर रेंज