स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नौकरी की व्यस्तता के बीच पर्यावरण के सरंक्षण में जुटीं

Harish kushwah

Publish: Oct 09, 2019 20:21 PM | Updated: Oct 09, 2019 20:21 PM

Gwalior

पुलिस की नौकरी काफी व्यस्तता की मानी जाती है। न खाने का ठिकाना, न सोने का। जब बुलावा आ जाए जाना ही पड़ता है। यही नहीं 10-10 घंटे ड्यूटी करनी पड़ जाती है। घर-परिवार के लिए भी बहुत कम समय मिल पाता है।

ग्वालियर. पुलिस की नौकरी काफी व्यस्तता की मानी जाती है। न खाने का ठिकाना, न सोने का। जब बुलावा आ जाए जाना ही पड़ता है। यही नहीं 10-10 घंटे ड्यूटी करनी पड़ जाती है। घर-परिवार के लिए भी बहुत कम समय मिल पाता है। ऐसी व्यस्ततता के बीच महिला एसआइ पारूल सिंह चंदेल पर्यावरण के संरक्षण के प्रयास में लगी हुई हैं। ड्यूटी करने के बाद जब भी उन्हें समय मिलता है वह पौधों की तरफ ध्यान देती हैं। एसपी ऑफिस में रहते हुए उन्होंने कई पौधे लगाए और उनकी देखरेख भी की। अब वह बड़े हो चुके हैं। कई में फल भी आ रहे हैं।

वह पर्यावरण के लिए समर्पित हैं और सिर्फ एसपी ऑफिस ही नहीं, शारदा बाल ग्राम पहाड़ी, डीआरपी लाइन मंदिर, एमएलबी कॉलेज और ईओडब्ल्यू ऑफिस में भी पौधे लगाए हैं। पर्यावरण के संरक्षण में उनका परिवार भी पूरा सहयोग करता है। एसआइ पारूल सिंह ने बताया कि वह खुद गांव से जुड़ी हैं। इसलिए बचपन से हरियाली के बीच रही हैं। यहां आकर उन्हें लगा कि क्यों न पर्यावरण के लिए कुछ काम किया जाए। इसी को ध्यान में रखकर वह पौध लगाने में जुट गईं। अभी तक आम, जामफल, शहतूत, रातरानी के अलावा कई फूलों के पौधे लगा चुकी हैं।

काफी सुकून मिलता है

पारूल का कहना है कि जिस प्रकार हम पढ़ाई के लिए समय निकालते हैं, वैसे ही पर्यावरण के लिए समय निकालना चाहिए। उन्होंने बताया कि दिनभर की जो थकावट होती है वह इन पौधों की सेवा करने से दूर हो जाती है। उन्हें इस काम को करने से काफी सुकून मिलता है। वह ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने का प्रयास करती हैं।

युवाओं से अपील

युवाओं से वह कहना चाहती हैं कि हमारे पूर्वजों ने जो हमें दिया है, कम से कम हमें उसे बनाए रखना चाहिए। अगर पर्यावरण बचा रहेगा तो हम सुरक्षित रहेंगे, इसलिए जब भी समय मिले पेड़-पौधे जरूर लगाएं। अगर रोज समय नहीं मिल रहा है तो जन्मदिन, शादी की वर्षगांठ आदि कार्यक्रमों में पौधे जरूर लगाना चाहिए।