स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हालत बिगड़ी तो केआरएच कर दिया रैफर, बच्चे की मौत पर परिजनों ने किया हंगामा

Rahul Aditya Rai

Publish: Jul 21, 2019 06:03 AM | Updated: Jul 21, 2019 01:18 AM

Gwalior

परिजनों का आरोप था कि डॉक्टरों की लारपवाही के कारण मौत हुई है, जबकि डॉक्टरों का कहना है बीती रात को ही हमने परिजनों को बच्चे की गंभीर हालत के बारे में बता दिया था।

ग्वालियर। गांधी रोड स्थित निजी हॉस्पिटल में भर्ती डेढ़ साल के बच्चे की मौत होने पर शनिवार को परिजनों ने चार घंटे तक हंगामा किया। परिजनों का आरोप था कि डॉक्टरों की लारपवाही के कारण मौत हुई है, जबकि डॉक्टरों का कहना है बीती रात को ही हमने परिजनों को बच्चे की गंभीर हालत के बारे में बता दिया था।

 

धौलपुर निवासी इमरान खान के डेढ़ वर्षीय बच्चे को सांस लेने में तकलीफ होने पर परिजन ने इलाज के लिए शुक्रवार को दोपहर गांधी रोड स्थित प्रयास हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। यहां डॉक्टर ने कुछ जांच कराईं। रात में बच्चे की तबीयत बिगडऩे पर परिजन ने डॉक्टरों को जानकारी दी।

 

सुबह बच्चे की तबीयत ज्यादा खराब हो गई तो कमलाराजा हॉस्पिटल रैफर कर दिया गया, जहां उसकी मौत हो गई। इससे गुस्साएं परिजनों ने प्रयास हॉस्पिटल पहुंचकर हंगामा कर दिया। परिजनों का आरोप था कि जब हॉस्पिटल में वेंटीलेटर की व्यवस्था नहीं थी तो भर्ती ही क्यों किया। बच्चे की मौत यहीं पर हो गई थी, इसके बाद कमलाराजा भेजा गया।

 


बच्चे की किडनी में खराबी थी। हीमोग्लोबिन, यूरिया भी काफी कम था। इसकी जानकारी हमने बीती रात को ही परिजनों को दे दी थी। इसके बावजूद परिजनों ने कहा कि रात को तो आप बच्चे को यहीं पर रखो। बच्चा धौलपुर से आया था।
डॉ.अमित जैन, प्रयास हॉस्पिटल