स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रशासन ने चार शहर का नाका की श्मशान रोड का लेफ्टर्न कराया फ्री, तोड़ी नौ दुकानें

Gaurav Sen

Publish: Aug 19, 2019 15:35 PM | Updated: Aug 19, 2019 15:35 PM

Gwalior

दुकानदारों ने सरकारी जगह पर दुकाने बना ली थी। यहां दुकानें तुड़वाई

ग्वालियर। जिला प्रशासन ने हजीरा क्षेत्र के चार शहर का नाका श्मशान घाट रोड पर कार्रवाई की। यहां लेफ्टर्न फ्री कराया और नौ दुकानों को हटाया। इन दुकानदारों ने सरकारी जगह पर दुकाने बना ली थी। यहां दुकानें तुड़वाई। इस दौरान क्षेत्रीय लोगों ने अपने प्लॉट के नक्शे भी प्रशासन के समक्ष प्रस्तुत किए और निजी जमीन पर दुकान होने की बात कही। प्रशासनिक अफसरों ने कागजों में नापतोल दर्शाते हुए सरकारी जमीन पर कब्जा होने की बात कही और इसे हटाए जाने कार्रवाई में बाधा न पहुंचने की हिदायत भी दी।

सोमवार की सुबह एसडीएम प्रदीप तोमर दलबल के साथ चार शहर का नाका पहुंचे। यहां श्मशान रोड निर्माण कार्य निगम द्वारा कराया जा रहा है। इस रोड़ पर क्षेत्रीय लोगों ने स्थाई अस्थाई अतिक्रमण कर लिया। इस वजह से निर्माण कार्य में बाधा आ रही है। इस क्षेत्र की सड़क को अतिक्रमण मुक्त कराए जाने को लेकर बीते रोज प्रशासन ने टीन शेड हटावाया था। इसके स्थाई ही स्थाई तौर पर अतिक्रमण करने वाले कब्जाधारियों को भी नोटिस थमाए थे। यह नोटिस दिए जाने के बाद सोमवार की सुबह नौ बजे प्रशासनिक टीम व निगम अफसरों की टीम दलबल के साथ पहुंचीं। इस दौरान उन्होंने नौ दुकानों को तोड़कर अतिक्रमण मुक्त कराई। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा। अतिक्रमण के बाद मलबा को निगम कर्मियों ने भरवाकर फिकवाया और नाले की भी सफाई कराई गई।

सरकारी जमीन पर कब्जा कर वसूल रहे थे किराया, प्रशासन ने हटाया अतिक्रमण

ग्वालियर. जिला प्रशासन ने नाका चंद्रवदनी चौराहे पर कुछ लोगों ने कब्जा कर रखा है। वह नाका चंद्रवदनी चौराहे पर सरकारी जमीन पर कुछ लोग स्थाई व अस्थाई अतिक्रमण करके दुकानें किराए पर चला रहे थे। जिन्हें जिला प्रशासन ने रविवार को हटा दिया। लगभग तीन घंटे तक चली कार्रवाई के दौरान जिला प्रशासन के अधिकारी और भारी पुलिस बल तैनात रहा।नाका चंद्रवदनी चौराहे पर बीते कई सालों से लोगों ने कब्जा रखा था। कुछ लोगों ने पक्का निर्माण करके दुकानों को किराए से देकर प्रति महीने हजारों रुपए वसूल रहे थे, तो कुछ लोगों ने अस्थाई दुकानें बनाकर किराए पर चला रहे थे। यहां करीब सात से आठ स्थानों पर कब्जा किया गया था,जिससे सडक़ की चौड़ाई कम हो गई थी। रविवार को एसडीएम अनिल वबनिया के नेतृत्व में चौराहे पर अतिक्रमण हटाया गया।

 

पक्के चबूतरे तोड़े
नाका चंद्रवदनी पर रॉयल ऑटो मोबाइल के नजदीक, समोसा कचौड़ी की दुकान, मीट-मछली की दुकान, देशी अहाता, सीमेंट एजेंसी आदि स्थानों पर लोगों ने दुकानों के सामने पक्के चबूतरे बनाए रखे थे। इन्हें तोड़ा गया। वहीं कुछ लोगों ने अपनी दुकान के सामने चाट पकौड़ी के धंधे वालों को स्थान देकर हर महीने किराया वसूल रहे थे। ऐसे लोगों पर कार्रवाई कर अतिक्रमण मुक्त कराया। निगम के अधिकारियों की मौजूदगी में पक्का निर्माण जेसीबी मशीन व हथौड़े चलाकर तोड़ा गया।

इन्हें दिए नोटिस
चार शहर का नाका पर सडक़ निर्माण में बाधक बने और सडक़ किनारे अतिक्रमण करने वाले राजपूत मेडिकल स्टोर, राजपूत चिकित्सालय, स्टेशनरी, कमल बैग की दुकान हटाई गई। इसके अलावा धोती राठौर, प्रकाश नारायण सक्सेना, नारायणङ्क्षसह, सोनू तोमर आदि का भवन खाली करके अवैध निर्माण हटाए जाने के नोटिस जारी किए गए। इसके अलावा रामस्वरूप सक्सेना, द्रोपदी को नोटिस जारी किए गए।

मीट की दुकान को पीछे कराया
वहीं कुछ मीट विक्रेताओं ने मुर्गा आदि की जाली सडक़ पर रखकर अतिक्रमण कर रखा था। इन दुकानोंं का सामान पीछे कराया। जो लोग सामान अपना नहीं उठा रहे थे उनका सामान निगम अमला समेट कर ले गया। इस दौरान कुछ लोगों ने विरोध कर अपनी बात को रखा जिस पर प्रशासनिक अफसरों व निगम अमले की टीम ने समझाइश देकर सडक़ को साफ रखने की हिदायत दी। वहीं कुछ लोग,अतिक्रमण हटाने को लेकर समय की मांग करते नजर आए। वहीं हरिशंकरपुरम की ओर जाने वाली सडक़ पर भी कुछ लोगों ने टीनशेड करके अस्थाई अतिक्रमण कर रखा था प्रशासन ने उसे भी साफ कराया।

टीनशेड को उतरवाया
चौराहे पर करीब दो दर्जन स्थानों पर दुकान के बाहर टीन शेड लगाकर सरकारी जमीन पर कब्जा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई। एसडीएम प्रमोद तोमर के नेतृत्व में यह कार्रवाई चली। इस क्षेत्र में करीब 3.5 घंटे कार्रवाई चली। इस दौरान अस्थाई अतिक्रमण रविवार को हटाया गया और स्थाई अतिक्रमण करने वाले लोगों को भी इस दौरान चिह्नित किए गए। ऐसे लोगों को नोटिस देकर सडक़ को अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा।

हटेगा मंदिर व यात्री प्रतीक्षालय

चौराहे पर मंदिर व यात्री प्रतीक्षालय बना है। जिला प्रशासन जल्द ही मंदिर को शिफ्ट कराएगी। वहीं यात्री प्रतीक्षालय सडक़ किनारे होने की वजह से सडक़ किनारे बसें खड़ी होती है। ऑटो चालक भी वहीं अपने वाहन को खड़ेकर रहे हैं। इसलिए यह स्थान भी अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा। इसके अलावा नाका चंद्रवदनी से विक्की फैक्टरी तक की सरकारी जमीन को भी अतिक्रमण मुक्त कराने की कार्रवाई शीघ्र की जाएगी।