स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजधानी समेत पूर्वोत्तर को दहलाने वाले थे ISIS के गुर्गे, पुलिस ने यूं नाकाम की साजिश

Prateek Saini

Publish: Nov 25, 2019 21:04 PM | Updated: Nov 25, 2019 21:25 PM

Guwahati

पुलिस की सतर्कता के चलते बड़ी आतंकी साजिश (ISIS Module) नाकाम (ISIS Module In India) हो (ISIS Terrorists) गई, नहीं तो भारी (Delhi Police) तबाही (Assam Police) हो (Assam News) सकती (Delhi News) थी......

 

(गुवाहाटी,राजीव कुमार): दिल्ली पुलिस की सतर्कता के चलते बड़ी आतंकी वारदात टल गई। दिल्ली पुलिस के इनपुट के आधार पर सोमवार को राज्य पुलिस ने असम के ग्वालपाड़ा जिले में आईएसआईएस माड्यूल से जुड़े तीन युवकों को गिरफ्तार किया। पुलिस का कहना है कि आरोपी जिले के कृष्णाई में चल रहे रास महोत्सव में आईईडी ब्लास्ट का टेस्ट करने वाले थे। इससे पहले ही पुलिस ने इन्हें पकड़ कर साजिश को विफल कर दिया।

 

[MORE_ADVERTISE1]राजधानी समेत पूर्वोत्तर को दहलाने वाले थे  <a href=ISIS के गुर्गे, पुलिस ने यूं नाकाम की साजिश" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/11/25/aaropi_5418680-m.png">[MORE_ADVERTISE2]

गिरफ्तार युवकों की पहचान कृष्णाई के सरदारपाड़ा निवासी लुइत जमीयुल, रंजीत अली और मुकुदर इस्लाम के रूप में हुई। सभी की उम्र 25 साल से नीचे है। बताया गया है कि ये सभी कभी एक साथ पढ़ते थे। लुइत एक आधार केंद्र में काम करता था। वहीं रंजीत एक मछली बेचने के संस्थान में मैनेजर था तो मुकुदर पहले ड्राइवर था और मछली उत्पादन से भी जुड़ा था। आईएसआईएस के वीडियो देखकर इन्होंने आईईडी बनाई थी।


यह भी पढ़ें: पुलिस ने जताई असम में आतंकी गतिविधियां बढ़ने की आशंका, यह है बड़ा कारण

 

[MORE_ADVERTISE3]राजधानी समेत पूर्वोत्तर को दहलाने वाले थे ISIS के गुर्गे, पुलिस ने यूं नाकाम की साजिश

पुलिस का कहना है कि कृष्णाई के रास महोत्सव में बम विस्फोट करने के बाद ये दिल्ली को दहलाने वाले थे। पुलिस का कहना है कि इनका द्धारा तैयार किया गया आईईडी भोपाल रेल बम धमाके जैसा ही था। जिससे भारी तबाही हो सकती थी। फिलहाल इन्हें अदालत में पेश कर पुलिस ने दस दिन के रिमांड पर लिया है। इनसे ग्वालपाड़ा थाने में पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने इनसे एक सक्रिय आईईडी के अलावा भारी मात्रा में विस्फोटक और अन्य बम बनाने की सामग्री बरामद की है। पुलिस का कहना है कि कृष्णाई के रास महोत्सव के अंतिम दिन भीड़भाड़ के बीच बम धमाका करने के बाद ये तीनों दिल्ली का रुख करते। पुलिस का कहना है कि पूछताछ के बाद और अधिक जानकारी मिलने की संभावना है।

 

बता दें कि 12 नवंबर को रास पूर्णिमा से पूरे राज्य में रास महोत्सव की शुरुआत हुई थी। राज्य में कहीं सात दिन तो कहीं 20 दिन तक रास महोत्व कार्यक्रम का आयोजन होता है। महोत्सव में भारी भीड़ मौजूद रहती है।

असम की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: Video: सब सोते रहे, कमरे में सैर करता रहा तेंदुआ, लोगों ने यूं बचाई जान