स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

असम: पुलिस ने मानव तस्करी से 19 को बचाया, जिनमें ज्यादातर नाबालिग

Yogendra Yogi

Publish: Jul 17, 2019 18:16 PM | Updated: Jul 17, 2019 18:16 PM

Guwahati

Human Trafficking: गुवाहाटी: असम पुलिस ( Assam Police ) ने मानव तस्करी ( Human Trafficking ) मामले में बड़ी कामयाबी हासिल की है। 19 युवक—युवतियों को तस्करों से रिहा करा लिया, जिनमें अधिकतर नाबालिग ( Mostly Minor ) है। इन सभी लोगों को ट्रेन से गुजरात ले जाया जा रहा था।

गुवाहाटी: असम पुलिस ( Assam Police ) ने बंगाई गांव मानव तस्करी ( human trafficking ) मामले में बड़ी कामयाबी ( Major Breakthrough ) हासिल की है। पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर यहां के रेलवे स्टेशन पर अभियान चलाया जिसमें 19 युवक—युवतियों की तस्करी करके ले जाते हुए पकड़ा ( Rescue ) है। तस्करों से इन सभी लोगों को रिहा करा लिया गया है जिनमें अधिकतर नाबालिग ( Mostly Minor ) है।

इन सभी लोगों को न्यू बंगाई गांव से तस्करी करके ओखा एक्सप्रेस के जरिए गुजरात ले जाया जा रहा था। पकड़े जाने के बाद तस्करी के शिकार लोगों ने कहा उनको नौकरी ( Better Life ) देने के बहाने से बहला फुसलाकर गुजरात ले जाया जा रहा था।
इतनी बड़ी घटना सामने आने के बाद पुलिस हरकत में आ गई और अन्य जगहों पर भी कड़ी निगरानी ( Strict vigilance ) रखी गई है। उत्तरपूर्वी राज्यों से नौकरी का झांसा ( Bluff ) देकर अन्य राज्यों ले जाने की घटनाएं ( Incidents ) पहले भी सामने आ चुकी है। लेकिन प्रशासन और पुलिस ( Police ) अब और भी अधिक सतर्कता के साथ काम कर रही है।

असम में बाढ़ की खराब ( Worse Flood Situations ) हालत के बीच मानव तस्कर सक्रिय ( Traffickers Active ) हो गए हैं। तस्कर पुनर्वास कैम्पों ( Rescue Camps ) में रह बाढ़ पीडि़त परिवारों ( Suffered families ) की बालिकाओं पर गिद्ध दृष्टि ( Eagle Eye ) रखे हुए हैं। इन बालिकाओं के परिजनों को उनकी बेहतर जिंदगी का ख्वाब दिखा कर उनकी जिन्दगी नरक ( Hell ) बनाने की तरफ धकेल रहे हैं।